Uttarakhand Cloudburst: उत्तराखंड में दिखा कुदरत का कहर, बादल फटने से बेहाल हुआ जन जीवन

Uttarakhand Cloudburst: उत्तराखंड में दिखा कुदरत का कहर, बादल फटने से बेहाल हुआ जन जीवन
▶️Uttarakhand CloudBurst: चमोली गांव में बादल फटने से हुई एक महिला की मौत, 12 साल की लड़की भी बुरी तरह घायल
▶️एनडीआरएफ (NDRF) और एसडीआरएफ (SDRF) की टीम मलबे में फंसे लोगो को सुरक्षित निकालने का कर रही है प्रयास
▶️कहर से उत्तराखंड (Uttarakhand News) में अब तक 11 लोगों ने गवाई जान

Uttarakhand Cloud Brust: उत्तराखंड के पिथौरागढ़ (Pithoragarh) और चमोली (Chamoli) जिले में सोमवार रात हुई भारी बारिश से कई घर मलबे में दफन हो गए हैं। तो कई लोगों ने अपनी जान गवा दी है। साथ ही इस हादसे (Uttarakhand Cloud Brust Accident) में एक महिला की मौत हो गई और एक बच्ची भी बुरी तरह से घायल है।

आपको बता दें कि चमोली के घाट ब्लॉक (Chamoli Ghat Block) के पडेर गांव के तिमदो थोक में बादल फटने (Cloud Brust News) से घर में मलबा और पानी घुस आया। इस मलबे में दबने से एक महिला की मौत हो गई है वहीं एक बच्ची घायल भी घायल हो गईं है। इस वक्त गांव की हालत बेहद दर्दनाक है।

Uttarakhand CloudBurst: बारिश के कारण पिथौरागड़ की हालत खराब

उत्तराखंड (Uttarakhand Cloud Brust) के धारचूला तहसील मुख्यालय के पास देर रात काफी भारी बारिश हुई, जिसके चलते गलाती गांव में बाढ़ का पानी घरों में घुस आया। यही नहीं, बल्कि लुमती गांव भी मलबे में लिपटी गया है। साथ ही जीबली गांव में एक महिला के लापता होने की भी खबर आ रही है।

uttarakhand cloudburst news in hindi

एक तरफ सीमांत क्षेत्र में भारी बारिश से बंगापानी तहसील (Bangapani Tahseal) के धामीगांव में एक घर बह गया और मलबे में दबने से मां बेटे की मौत हो गई। तो वहीं दूसरी तरफ तेजम तहसील के गूंठी गांव में लैंड स्लाइड (Land Slide Uttarakhand) की चपेट में आने से कई लोगो ने अपनी जान गवा दी है। एनडीआरएफबी (NDRFB) और एसआरडीआरएफ (SRDRF) की टीम सभी पीड़ित लोगों को रेस्क्यू करने की कोशिश कर रही है।

जानिए क्या होता है क्लाउडबर्स्ट? (Know What Is CloudBurst?)

Cloudburst kya hota hai: छोटे से जियोग्राफिकल क्षेत्र (Geographical Area) में कुछ समय के लिए हद से ज्यादा होने वाली बारिश को क्लाउडबर्स्ट (Clould Brust) कहते हैं। मौसम विभाग के वैज्ञानिकों के मुताबिक आमतौर पर बादल फटने (Cloud Brust News) से होने वाली बारिश कम से कम 100 मिमी हर घंटे के बराबर या उससे ज्यादा गिरती हुए रेट के साथ बौछार के प्रकार की होती है।

कौनसे क्षेत्रों में CloudBurst होने का खतरा ज्यादा है?

हालांकि क्लाउडबर्स्ट (Uttarakhand Cloud Brust) का कोई अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है, लेकिन पहाड़ी क्षेत्रों में बादल फटने का खतरा अधिक बताया जाता है। खड़ी पहाड़ियों जैसी टोपोग्राफीकल स्थिति (Topographical Condition) में बादलों के बनने के चांसेज बहुत होते हैं। इन्हीं जगहों पर तबाही भी ज्यादा होती है, क्योंकि पानी जब ढलान से नीचे गिरता है तो अपने साथ मलबा, बोल्डर और उखड़े हुए पेड़ तेज़ी से आते हैं, और अपने रास्ते में आने वाली सभी चीज़ों को नुक्सान पहुंचाते हैं।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।