सुप्रीम कोर्ट ने किया ऐलान, बुजुर्गों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब पेंशन के साथ मिलेगा मास्क,

सुप्रीम कोर्ट ने किया ऐलान, बुजुर्गों के लिए बड़ी खुशखबरी, अब पेंशन के साथ मिलेगा मास्क,
▶️ बुजुर्गों के लिए आई बड़ी खबर, अब अकेले रहने वाले बुजुर्गों को मिलेगी सरकार की तरफ से खास सहायता सुप्रीम कोर्ट ने लिया फैसला (Supreme Court Decision For Senior Citizen)
▶️ राज्यसभा एमपी अश्विनी कुमार (Rajyasabha MP Ashwini Kumar) के याचिका दायर करने के बाद लिया गया बड़ा फैसला
▶️बुजुर्गों को मिलेगी खास मदद, पीपीई किट (PPE-Kit), मास्क (Mask), सैनिटाइजर (Sanitizer) आदि कराया जाएगा मुहैया

कोरोना वायरस (Corona Virus) के इस दौर में हाल ही में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court News) ने अकेले रहने वाले बुजुर्गों के लिए एक बड़ा ऐलान किया है। मिनिस्ट्री ऑफ सोशल जस्टिस एंड एनवायरनमेंट (Ministery Of Social Justice & Enviorment) के द्वारा एक नया फैसला लिए गया है। जिसके तहत अकेले रहने वाले बुजुर्गों के लिए पेंशन के साथ अब उन्हें ppe kit, सेनिटाइजर (Sanitizer), मास्क (Mask) आदि जरूरत की चाजें मुहैया करवाया जाएगा।

Supreme Court Decision For Senior Citizen: जस्टिस पीठ ने लिया बड़ा फैसला

जस्टिस अशोक कुमार (Justice Ashok Kumar) और आर सुभाष रेड्डी (Justice Subhas Reddy) की पीठ ने मंगलवार को कोरोना काल (Corona Period) में अकेले रहने वाले बुजुर्गों के लिए फैसला लेते हुए कहा है कि समय-समय पर उनको पेंशन के साथ ही जरूरत का सारा सामान मुहैया करवाया जाए। आज बैंच ने कहा कि यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह देश में रहने वाले बुजुर्गों (Senior Citizen) का इस कोरोना काल (Corona Period) में खास ध्यान रखें, और साथ ही यह सुनिश्चित भी करें की बुजुर्गों को समय अनुसार जरूरत का सामान मिल रहा है या नहीं।

supreme court decision for senior citizen

सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वृद्धा आश्रम में रहने वाले बुजुर्गों को समय-समय पर जरूरत का सामान जैसे मास्क (Mask), सैनिटाइजर (Sanitizer), पीपीई किट (PPE-Kit) आदि मुहैया कराया जाए।

Supreme Court Decision For Senior Citizen: बुजुर्गों के लिए सराहनिय पहल

आपको बता दें कि यह फैसला राज्यसभा के एमपी डॉ अश्विनी कुमार (Rajyasabha MP Dr. Ashwini Kumar) के सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court News) में याचिका दायर करने के बाद लिया गया है। यह फैसला बुजुर्गों के लिए वरदान साबित होगा क्योंकि इस समय बुजुर्गों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। लेकिन इसके बाद उनको राहत मिलेगी। आपको बता दें कि 2011 की जनगणना के मुताबिक 29% बुजुर्ग वृद्धा आश्रम (Old Age Home) में रहने को मजबूर हैं। यह रिपोर्ट पुरानी है। और अब यह संख्या और भी बढ़ गई है

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Diksha Gupta

Diksha Gupta

दीक्षा उन लेखकों में से हैं जिनको शब्दों से बेहद प्यार हैं। और इन शब्दों को खूबसूरत तरीके से पन्ने पर उतारना दीक्षा को काफ़ी पसंद है। आप सब तक ख़बरें पहुंचाने के अलावा दीक्षा को कविताएं लिखना भी पसंद है। शौक की बात करें तो दीक्षा डांस में भी रूचि रखती हैं। और एक ऐसी लड़की हैं जिन्हें नई चीज़ें सीखने में मज़ा आता है। दीक्षा का मानना है की वह लक्ष्य कि प्राप्ति के लिए ही ईश्वर पर और खुद पर विश्वास करना पसंद करती हैं.