राम मंदिर निर्माण एक बार फिर विवादों में घिरा, क्या लग जाएगी भूमीपूजन पर रोक?

राम मंदिर निर्माण एक बार फिर विवादों में घिरा, क्या लग जाएगी भूमीपूजन पर रोक?
▶️ Ramlala Mandir Construction Update: 5 अगस्त को रामजन्म भूमिपूजन (RamJanam Bhoomi Pujan) की तारीख निधारित की गयी हैं, पीएम होंगे शामिल
▶️ पत्रकार द्वारा पूजन में रोक लगाने की याचिका दाखिल की गई है जिसमें करोना का हवाला दिया गया है
▶️ पत्रकार ने दावा किया है की करोना के दिशानिर्देश के विरुद्ध होगा भूमि पूजन

राम भक्त 400 से अधिक वर्षों से राम मंदिर (Ramlala Mandir Construction Update) बनने का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में 5 अगस्त को रामलाला (Ramlala JanamBhoomi Pujan) के निवास के लिए भूमिपूजन की तारीख निधारित की गई है। लेकिन हाल ही मे ही एक पत्रकार द्वारा मंदिर के निर्माण पर रोक लगाने के लिए अर्जी दायर की गई है, जिसमें करोना को वज़ह बताते हुए हवाला दिया गया है कि भूमिपूजन महामारी के गाइडलाइन (Bhoomipujan Against Padamic Guideline) के विरुद्ध है।

Ramlala Mandir Construction Update: प्रधानमंत्री खुद होंगे पूजन में शामिल

बीजेपी के घोषणा पत्र में केंद्र का मुद्दा रहे राम मंदिर निर्माण (Ramlala Construction Date) की तारीख घोषित हो चुकी है, ऐसे मे ये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है।

पूजन प्रधानमंत्री मोदी (PrimeMinister Modi News) द्वारा ही किया जाएगा ऐसे में मोदी के आगमन की पूरी तैयारी कर ली गई है साथ ही इसके लिए अयोध्यावासियों (Ayodhya News Update) में उत्साह की लहर देखने को मिल रहीं हैं।

Ramlala Mandir Construction Update

क्या लग जाएगी Ramlala Mandir Construction पर रोक?

पत्रकार की याचिका के बाद लोगों के मन में बड़ा सवाल है कि क्या भूमिपूजन (Ramlala Bhoomipujan) पर रोक लग जाएगी? आपको बता दें शासन प्रशासन (UP Adminstration) की तरफ से करोना को लेकर पुख्ता इंतजाम कर लिए गए हैं और प्रधानमंत्री द्वारा पूजन की सारे प्रयोजन की देख रेख बड़े अधिकारियों की निगरानी में हो रही है तो ऐसे में भूमिपूजन टलने का कोई सवाल नहीं उठता है।

निर्माण की लडाई में शहीद श्रद्धालुओं का पूरा होगा सपना

मंदिर के निर्माण (Ramlala Mandir Construction) से राम भक्त जिन्होंने अपने प्राणों की आहुति दे दी उनका सपना पूरा होने जा रहा है। कारसेवक ने अपने प्राण की आहुति देते हुए जो सपना देखा था उसे नरेंद्र मोदी (Narendra Modi Goverment) द्वारा साकार किया जाएगा। मंदिर निर्माण हिन्दुओं की आस्था से जुड़ा अहम मुद्दा रहा है जिसमें भारत की राजनीति पर भी असर डाला है।

रोक के पीछे की मानसिकता

पत्रकार के रोक लगाए जाने के बाद सवाल उठता है कि वो कौन लोग हैं जो मंदिर निर्माण (Ram Mandir Nirmaan) मे रोड़ा अटकाने का काम कर रहे हैं? भूमिपूजन (Ram Mandir BhoomiPujan) की तैयारी से जुड़े पुरोहितों की माने तो यह वही लोग हैं जिन्होंने कभी नहीं चाहा कि मंदिर बने। पुरोहित का कहना है कि मंदिर निर्माण हमारी आस्था से जुड़ा है और हम करोना महामारी की गाइडलाइन का पालन करते हुए पूजन की तैयारी में लगे हुए हैं।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Somendra Raj Tiwari

Somendra Raj Tiwari