Rakshabandhan 2020: कुछ इस तरह होगा फौजी भाइयों का रक्षाबंधन, भाई को नहीं इश्वर को ऱाखी बांधेंगी बहने

Rakshabandhan 2020: कुछ इस तरह होगा फौजी भाइयों का रक्षाबंधन, भाई को नहीं इश्वर को ऱाखी बांधेंगी बहने
▶️ Kargil Vijay Diwas: भारत 26 जुलाई का दिन उन सभी सैनिकों को संर्पित करता है जिन्होने कारगिल पर मुठभेड़ में जान दे दी थी।
▶️फौजी भाइयों के लिए खास है 2020 का रक्षाबंधन (Rakshabandhan 2020), बहने भाइयों को नहीं इश्वर को बांधेंगी राखी, औऱ भाई के लबीं उम्र की करेंगी कामना
▶️रंग डे का एक ऑर्गेनिक प्रोजेक्ट हब्बा (Organic Project Hub) के माध्यम से सभी फौजियों की वीरता को किया गया सलाम

Rakshabandhan 2020: 26 जुलाई, ये वो तारीख़ है जो इतिहास के पन्नो में दर्ज है। इसी तारीख़ को साल 1999 में भारत ने कारगिल (Kargil Vijay Diwas 2020) पर अपनी जीत हासिल कर पुरे देश को गर्व से ऊँचा कर दिया। उन सभी फौजियों के इस बलिदान को सलाम करने के लिए देश हर साल 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस (Kargil Vijay Diwas) मनाता है।

Rakshabandhan 2020: अपने फौजी भाइयों के लिए बहने करेंगी प्रार्थना

अपने सभी फौजी भाइयो का हौसला बढ़ाने और उनकी सुरक्षा का धागा बांधने के लिए सभी बहने बेताब रहती हैं। लेकिन साल 2020 थोड़ा अलग है। दूर बैठी बहनों के लिए फौजी भाइयो को इस महामारी में जाकर राखी (Rakshabandhan 2020) बांधना संभव न हुआ। तो ऐसे में सभी बहने ईश्वर के आगे उनकी सुरक्षा और लम्बी आयु के लिए ईश्वर को राखी बाँधकर प्रार्थना करेंगी।

क्या है साल 2020 की राखी में खास?

साल 2020 में कोरोना वायरस की महामारी (Corona Virus Padamic in 2020) से सभी मजदूर और कारीगरों ने अपनी रोजी रोटी कमाने के सभी ज़रियो को गवा दिया है। इसी बीच रंग डे का एक ऑर्गेनिक प्रोजेक्ट हब्बा (Organic Project Hub), की शुरुआत हुई ताकि ना सिर्फ सभी श्रमिकों को सहायता मिले बल्कि सभी फौजियों की वीरता को सलाम भी किया जाए।

‘जय जवान, जय कारीगर (Jay Jawan, Jay Karigar)’ की पहल भी शुरू की गई ताकि श्रमिक अपनी आजीविका भी कमा सकें। साथ ही रक्षाबंधन (Rakshabandhan 2020 Date) के अवसर पर सभी सैनिकों के लिए राखी बना सकें।

यही नहीं बल्कि मुस्लिम राष्ट्रवादी संघ (Muslim Rastravadi Sangh), हिमालय परिवार और भारत तिब्बत सहयोग मंच (Himalaya Parivar & Bharat-Tibbat Sahyog Manch) जैसे राष्ट्रवादी संगठन की सभी महिलाएं भी भारत से सटे सभी सीमाओं का दौरा कर उनके साथ रक्षाबंधन का उत्सव मनाएंगी।

Rakshabandhan 2020 For Soldiers On Kargil Vijay Diwas
Kargil Vijay Diwas

Kargil Vijay Diwas: यादगार कारगिल

भारतीय सेना ने कारगिल (Kargil War) में करीब 18 हज़ार फ़ीट की ऊँचाई पर पाकिस्तानी सेना को मात दिया था। कारगिल वॉर (Kargil war) में भारतीय सेना की करीब 527 सैनिकों ने बलिदान दिया था, तो वही 1300 से ज्यादा सैनिक घायल हुए थे। आपको बता दें कि, ३ मई 1999 से ही इस युद्ध की शुरुआत हो चुकी थी, जब पाकिस्तानी सेना ने कारगिल पर कब्ज़ा कर लिया था।

इस कब्जे के बाद सभी वीर सैनिकों ने पाकिस्तान के साथ मुकाबला कर उनके कब्ज़ा किए हुए सभी जगहों पर भारतीय झंडा फहराया। धीरे-धीरे भारत ने कारगिल (Kargil India) को भी अपना बना लिया। पाकिस्तान की इस घिनौनी हरकत को भारत ने देश और दुनिया के सामने भी लाकर रख दिया था। आखिर में जब भारत के सैनिकों ने अपने साहस से कारगिल पर अपनी विजय हासिल कर ली तब प्रधान मंत्री अटल बिहारी बाजपेई (Prime Minister Atal Bihari Bajpayee) ने इस जीत की घोषणा की थी।

26 जुलाई सैनिकों के नाम

26 जुलाई का दिन पूरा भारत उन सभी सैनिकों के नाम (Kargil Vijay Diwas 2020) करता है जिन्होंने अपने साहस का उदहारण देकर देश को एक अलग ऊँचाई पर पहुंचाया। सभी फौजियों और सैनिकों को सलाम करते हुए भारत देश की सभी बहने उन्हें राखी बाँधकर उनका शुक्रियादा करना चाहती हैं।

हमारी टीम भी उन सभी वीर सैनिकों और फौजियों के बलिदान को सलाम करती है। और आशा करते हैं कि देश की सभी बहने उन फौजियों को हौसला दें जिससे हम उन सभी ऊंचाइयों को हासिल करें जिसकी हमें बहुत वक्त से कामना है।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Omkar Bhaskar

Omkar Bhaskar