सचिन पायलट के खिलाफ दायर याचिका को विधानसभा स्पीकर ने ली वापस, अब राजनितिक स्तर पर होगी लड़ाई

सचिन पायलट के खिलाफ दायर याचिका को विधानसभा स्पीकर ने ली वापस, अब राजनितिक स्तर पर होगी लड़ाई
▶️ Rajasthan Politics Crisis: राजस्थान सियासी संकट को हुए 18 दिन पुरे, अभी चल रही है गहमागहमी
▶️विधानसभा स्पीकर ने याचिका वापस ली, किपल सिब्बल (Kapil Sibal) ने दी जानकारी
▶️पायलट-गहलोत (Pilot-Gehlot Matbhed) के बीच आई अब बसपा सरकार, हाईकोर्ट ने 19 विधायकों को इस मामले में शांत रहने को कहा है

राजस्थान (Rajasthan Politics Crisis) में लंबे समय से चल रहे सियासी मुद्दों ने एक नया मोड़ ले लिया है। सियासी लड़ाई अब केवल राजनैतिक नहीं रही, बल्कि ये लड़ाई कोर्ट और राजभवन तक जा पहुंची है। हाल ही में, सोमवार को स्पीकर सीपी जोशी (Speaker CP Joshi) ने विधायकों के अयोग्यता नोटिस मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में दायर अपनी याचिका वापस ले ली। उनके वकील कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने दलील दी कि इस मसले पर अभी सुनवाई की जरूरत नहीं है।

Rajasthan Politics Crisis: सुप्रीम कोर्ट में किस मामले की होनी है सुनवाई?

दरअसल, सचिन पायलट (Sachin Pilot News) समेत 19 विधायकों के खिलाफ स्पीकर सीपी जोशी (Speaker CP Joshi) ने राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan Highcourt Decision) द्वारा कारवाई पर रोक लगाने के फैसले के खिलाफ अपील की थी। जिसपर सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की पीठ सोमवार यानी आज सुबह 11 बजे सुनवाई की गई। जोशी ने अपनी याचिका में हाईकोर्ट के आदेश को गैरकानूनी करार दिया है। हाईकोर्ट ने अयोग्यता की नोटिस पर स्थिति को वैसे ही रखने का शुक्रवार को आदेश दिया था।

पायलट-गहलोत की लड़ाई में हुई बसपा की एंट्री

बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) ने अपने 6 विधायकों के नाम जारी किए जो कांग्रेस में शामिल हो चुके है। इन सभी विधायकों को बसपा सरकार द्वारा आदेश दिया गया कि वे कुछ न कुछ करके कांग्रेस के खिलाफ वोट करें, नहीं तो उन्हें अयोग्य बता दिया जायेगा।

Rajasthan Politics Crisis

जंग से जुड़ी कुछ खास बातें

हाईकोर्ट (Rajasthan Highcourt Decision) ने 19 विधायकों को इस मामले में शांत रहने को कहा है। इसका मतलब की अभी उनकी सदस्यता रद्द नहीं होगी। आदेश का सोमवार को सुप्रीम कोर्ट रिव्यू करेगी अभी इंतज़ार है सुप्रीम कोर्ट की जजमेंट (Supreme Court Judgement) का। राजस्थान (Rajasthan Politics Crisis) स्पीकर के वकील कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने सुप्रीम कोर्ट से याचिका वापस लेने का अनुरोध किया था।

सिब्बल ने कहा था कि इस मामले में अभी सुनवाई की जरूरत नहीं है। अभी थोड़ा वक्त लेंगे और विचार करके दोबारा अदालत आएंगे। इसके बाद अदालत ने उन्हें याचिका वापस लेने की इजाजत भी दे दी है। आपको बता दे कि कांग्रेस देशभर में भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। इसी बीच दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अनिल चौधरी (Delhi State President Anil Chaudhary) को उनके कार्यकर्ताओं के साथ हिरासत में लिया गया। वहीं कांग्रेस सोमवार को राजस्थान (Rajasthan Politics Crisis) में प्रदर्शन नहीं करेगी।

अशोक गहलोत ने कई बार की थी अपील

आपको बता दें कि अशोक गहलोत (pilot-gehlot Matbhed) की ओर से कई बार अपील भी की गई है कि विधानसभा का सत्र बुलाया जाए, ताकि सरकार बहुमत साबित कर सके। हालांकि, राज्यपाल ने अभी कोरोना वायरस (Corona Virus) का हवाला दिया है। इसको लेकर कांग्रेस विधायक राजभवन में धरने पर भी बैठे थे। साथ ही अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) से लेकर राहुल गांधी, प्रियंका गांधी ने भी भाजपा पर निशाना साधा था।

अब देखना ये होगा की सुप्रीम कोर्ट (Supeme Court Judgement) किसके पक्ष में अपना फैसला सुनती है। क्या सचिन पायलट (Pilot-Gehlot Matbhed) को अभी भी पार्टी की सदस्यता मिलेगी या पायलट समेत सभी विधायकों को पार्टी से कानूनी तौर पर निलंबित कर दिया जायेगा।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Omkar Bhaskar

Omkar Bhaskar