ठीक होने के बाद दोबारा हो रहा है कोरोना, अमेरिका से आया पहला केस

ठीक होने के बाद दोबारा हो रहा है कोरोना, अमेरिका से आया पहला केस
▶️ अमेरिका में दोबारा कोरोना संक्रमित होने का पहला मामला आया सामने, लोगों में दहशत का माहौल
▶️ पूरी दुनिया से आ रहे हैं दोबारा संक्रमण के मामले सामने, भारत में भी आ चुका है पहला केस
▶️ डब्ल्यूएचओ ने किया दावा, सर्दी में बढ़ जाएगी कोरोना वायरस की रफ्तार, आयेंगे ज्यादा मामले सामने

अब तक की रिसर्च के अनुसार अगर कोई व्यक्ति कोरोना से संक्रमित हो जाए तो उसे लड़ने के लिए उसका शरीर एंटीबॉडी विकसित करता है जिसके बाद उसके दोबारा संक्रमित होने की आशंका लगभग ना के बराबर रह जाती है। लेकिन अब इस बात को गलत साबित करते हुए दोबारा संक्रमित होने के मामले भी सामने आ रहे हैं।

अमेरिका में एक व्यक्ति को दोबोरा हुआ कोरोना

People getting afftected by covid-19 after recovery

हाल ही में अमेरिका में कोरोना वायरस से दोबारा संक्रमित होने का मामला सामने आया है। लेकिन ये अबतक का पहला मामला है। अमेरिका के नेवाडा शहर में रहने वाला एक युवक जिसकी उम्र तकरीबन 25 साल के आसपास है। वो कोरोना वायरस से सबसे पहले संक्रमित अप्रैल के महीने में हुआ था जिसके बाद वो ठीक हो गया। लेकिन मई में फिर से वो कोरोना वायरस पॉजिटिव पाया गया।

दोनों बार में युवक की हालत थी अलग

पहली बार संक्रमित होने के बाद युवक की हालत ठीक-ठाक सी थी, उसे मामूली दिक्कत आई लेकिन दूसरी बार में इसके गंभीर लक्षण सामने आए, जिसके बाद उसे मजबूरन अस्पताल में जाकर भर्ती होना पड़ा। आपको बता दें की इसी तरह के मामले अब पूरी दुनियाभर से सामने आ रहे हैं।

जिसमें मुख्य रुप से होंगकोंग, नीदरलैंड, और बेल्जियम से भी दोबारा संक्रमित होने के मामले सामने आ चुके हैं। और अगर भारत में देखा जाए तो भारत के गुजरात में ऐसा एक मामला देखने को मिला है। वही दूसरी बार संक्रमित होने पर लोगों की हालत में गंभीर लक्षण देखने को मिले जिसमें अधिकतर लोगों को ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत पड़ी।

अमेरिका के रिसर्च में आई रिपोर्ट

अमेरिका (America) में उस युवक पर रिसर्च करने पर कुछ अच्छे भी निकल कर सामने आए हैं यह बात अमेरिका के THE LANCET जर्नल में इस स्टडी को प्रकाशित किया गया, जिसमें रिसर्चर्स का कहना है कि युवक दोनों ही बार अलग-अलग स्रोतों से संक्रमित हुआ। और दूसरी बार वायरस की क्षमता पहले से कई गुना ज्यादा थी।

कुल मिलाकर ये मामला दोबारा संक्रमण का ही है। हालांकि अन्य लोगों का कहना है कि ऐसी घटनाएं दोबारा कभी देखने को नहीं मिलेंगी क्योंकि संक्रमित होने के बाद उनके शरीर में दोबारा इम्यूनिटी का विकास होगा।

WHO के अनुसार सर्दी में कोरोना वायरस की रफ्तार और भी बढ़ जाएगी, जिससे निश्चित रूप से संक्रमित होने वाले मामलों में भी तेजी आएगी, तो अगर आप भी अब तक इस भ्रम में जी रहे थे की यह संक्रमण केवल एक ही बार शिकार बनाता है तो सावधान हो जाइए। अपना और अपने परिवार के लोगों का खूब ध्यान रखिए।

आगे पढ़ें

Diksha Gupta

Diksha Gupta

दीक्षा उन लेखकों में से हैं जिनको शब्दों से बेहद प्यार हैं। और इन शब्दों को खूबसूरत तरीके से पन्ने पर उतारना दीक्षा को काफ़ी पसंद है। आप सब तक ख़बरें पहुंचाने के अलावा दीक्षा को कविताएं लिखना भी पसंद है। शौक की बात करें तो दीक्षा डांस में भी रूचि रखती हैं। और एक ऐसी लड़की हैं जिन्हें नई चीज़ें सीखने में मज़ा आता है। दीक्षा का मानना है की वह लक्ष्य कि प्राप्ति के लिए ही ईश्वर पर और खुद पर विश्वास करना पसंद करती हैं.