Rafale: आज भारतीय वायु सेना में औपचारिक रूप से शामिल होगा राफेल जेट, फ्रांसीसी रक्षा मंत्री भी कार्यक्रम में होगी मौजूद

Rafale: आज भारतीय वायु सेना में औपचारिक रूप से शामिल होगा राफेल जेट, फ्रांसीसी रक्षा मंत्री भी कार्यक्रम में होगी मौजूद
▶️ फाइटर जेट राफेल ‘सर्वधर्म पूजा’ के साथ भारतीय वायु सेना में होगा शामिल
▶️ औपचारिक समारोह में भारत और फ्रांस रक्षा मंत्रियों समेत, कई सेना के अधिकारी रहेंगे मौजूद
▶️ भारत-फ़्रांस रक्षा सौदे के तहत 2020 तक 36 राफेल भारत को मिलेंगे

Rafale News 2020: गुरुवार(10 सितंबर 2020) यानी आज का दिन। यह दिन भारतीय वायु सेना और राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए काफी अहम है। भारतीय सीमाएं LAC और LOC पर लंबे समय से तनाव स्थिति के बीच आज अंबाला एयरबेस (Ambala Airbase) से लड़ाकू विमान राफेल का औपचारिक रूप से भारतीय वायुसेना में शामिल होना, कहीं ना कहीं दुश्मन के लिए चेतावनी है।

अंबाला एयरवेस से पांचो राफेल वायु भारतीय सेना के बेड़े में होंगे शामिल

New Dassault Rafale Planes added to fleet

आज करीब 10:30 बजे अंबाला स्थित भारतीय एयरवेस में औपचारिक कार्यक्रम के साथ राफेल जेट भारतीय वायुसेना (Indian Air force) के बेड़े में शामिल हो जाएगा। इस कार्यक्रम में भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh), फ्रांस की रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पारेल (Florence parly),CDS जनरल बिपिन रावत (Gen. Bipin Rawat), वायु सेना प्रमुख आर के एस भदौरिया और रक्षा सचिव अजय कुमार शिरकत करेंगे। पारंपरिक ‘सर्वधर्म पूजा’ की जाएगी, तत्पश्चात राफेल और तेजस विमान हवाई करतब भी दिखाएंगे।

जान लीजिए राफेल और उसकी ताकत को!

  1. राफेल विमान का निर्माण फ्रांस की कंपनी दसॉल्ट एवियशन (Dassault Aviation) द्वारा किया गया है। राफेल 4.5 जनरेशन के दुनिया के बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक है।

2. राफेल दो इंजनों वाला मल्टी रोल एयरक्राफ्ट (dual-engine multi-role aircraft) है। यह एक ही उड़ान में कई मिशनों को अंजाम दे सकता हैं।

3. राफेल में मेटेओर, स्कैल्प, मीका और हैमर जैसे खतरनाक मिसाइल उपलब्ध है। जो कई किलोमीटर दूर दुश्मन के घर में घुसकर मार करने में सक्षम है।

4. राफेल की रफ्तार 2,130 प्रति घंटा है। यह दुश्मन के रडार को चकमा दे सकता है। 1 मिनट में 60 हजार फीट की ऊंचाई तक जा सकता है।

5.राफेल 25400 किलोग्राम वजन ले जाने में सक्षम है। यह परमाणु हमला भी कर सकता है। राफेल अफगानिस्तान और लीबिया में अपनी ताकत दिखा चुका है।

वर्ष 2022 तक भारत के पास 36 राफेल विमान होंगे

साल 2016 में भारत सरकार ने फ्रांस सरकार (French Government) से 59,000 करोड रुपए में 36 राफेल विमान खरीदने का सौदा किया था। उस समय विपक्ष और खासकर कांग्रेस (Congress) द्वारा सरकार पर आरोप लगाए गए कि राफेल सौदा काफी महंगा है। इसी साल 27 जुलाई को अंबाला एयरबेस में पांच राफेल विमान पहुंचे थे। आने वाले 2 सालों के भीतर भारत वायु सेना के बेड़े में 36 राफेल विमान होंगे। पूर्वी लद्दाख (Laddakh) के LAC पर भारत और चीन सीमा विवाद के दौरान भारतीय वायु सेना में राफेल जेट विमान का शामिल होना, चीन के लिए बड़ी चेतावनी से कम नहीं है!

आगे पढ़ें

Mahima Nigam

Mahima Nigam

महिमा एक चंचल स्वभाव कि लड़की है और रियल लाइफ में खेलकूद करने के साथ इन्हें शब्दों के साथ खेलना भी काफी पसंद है। बता दें कि इस वेबसाइट को शुरू करने का सपना भी महिमा का है और उसे मंज़िल तक पहुंचाने का भी। उम्मीद करते हैं कि आप साथ देंगे