Mann Ki Baat Live : पीएम मोदी के ‘मन की बात’ का हुआ 68वां संस्करण प्रसारित, कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर हुई चर्चा

Mann Ki Baat Live : पीएम मोदी के ‘मन की बात’ का  हुआ 68वां संस्करण प्रसारित, कई  महत्वपूर्ण मुद्दों पर हुई चर्चा

आज सुबह 11 बजे (Mann ki baat timing today) पीएम मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’के माध्यम से एक बार फिर जनता से जुड़े। पीएम का ये 68वां संस्करण है। इससे पहले प्रधनमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 26 जुलाई को ‘मन की बात’ की थी। आज के सम्बोधन के लिए पीएम ने ट्वीट कर लोगों से सलाह भी मांगे थी।

‘मन की बात’ के ज़रूरी तथ्य

अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन कई बात’ के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, इस बार कोरोना के कारण देश देशभर में मनाए जा रहे त्योहारों की संयम और सादगी काफी सराहनीय है।

पीएम ने कहा कि त्योहारों और पर्यावरण का काफी गहरा सम्बंध है, इस बार सब ओणम का पर्व भी काफी हर्ष के साथ मनाएंगे, लोग इस दिन घर के लिए कुछ नया खरीदते हैं और तरह-तरह के खेल का भी आयोजन करते हैं। ओणम भी सादगी का पर्व है।

कोरोना काल में सादगी है बेहद ज़रूरी- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि, कोरोना के इस भयावह काल में सयम और सादगी बहुत जरूरी है। और इस बार ये काफी हद तक देखा गया है। लोग सभी त्योहारों को काफी सादगीपूर्ण तरीके से मना रहे हैं।

पीएम ने की किसानों की सराहना

अपने सम्बोधन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि, हमारे देश के किसानों ने कोरोना के इस मुश्किल घड़ी में भी काफी हिम्मत के साथ काम किया है।

पीएम ने कहा कि, इस कोरोना काल में जब सभी घरों में कैद हैं ऐसे में कई बार जहन में ये सवाल आए हैं कि, छोटे-छोटे नन्हे बाल-मित्रों का समय कैसे गुजर रहा होगा, हमने इस बात पर भी ध्यान दिया कि कैसे हम नन्हे बच्चों तक खिलौने पहुंचा सके। हमने ये भी सोचा कि भारत में छोटे बच्चों के लिए खिलौने का बड़ा हब कैसे बनाएं।

ऐसे में भारत के कुछ क्षेत्रों को खिलौनों के केन्द्र व बडे हब के रूप में भी विकसित किया जा रहा है।

वीडियो गेम का असर

कार्यक्रम में पीएम मोदी ने बच्चों द्वारा खेले जा रहे वीडियो गेम पर भी चर्चा की, पीएम ने कहा कि, ये स्मार्टफोन का जमाना है जहां कम्प्यूटर गेम काफी लोकप्रिय है। लेकिन इन सभी गेम्स की थीम्स भी बाहरी होती है। ऐसे में ये जरूरी है कि आत्मनिर्भर भारत अभियान में वर्चुअल गेम्स हों।

पीएम मोदी ने महात्मा गांधी का जिक्र करते हुए कहा कि, करीब100 वर्ष पहले की बात है गांधी जी ने कहा था कि, “असहयोग आन्दोलन हुआ था ये आंदोलन देशवासियों में आत्मसम्मान और अपनी शक्ति का अहसास कराने का ही एक प्रयास है।”

आज ‘मन की बात’ (Mann ki baat today) के सांकेतिक भाषा संस्करण का 11 बजे प्रसारण होगा। जिसके बाद रात 8 बजे इसका दोबारा से प्रसारण किया जाएगा। यदि फिर भी आप कार्यक्रम की बातें नहीं सुन पाते हैं तो अपने मोबाइल में 1922 डायल करें और अपना क्षेत्रीय भाषा चुनकर ‘मन की बात’ कार्यक्रम को आसानी से सुन सकते हैं।

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।