World Vegetarian Day: जाने क्यों मनाया जाता है विश्व शाकाहारी दिवस, कहाँ से हुई इसकी शुरुआत

World Vegetarian Day: जाने क्यों मनाया जाता है विश्व शाकाहारी दिवस, कहाँ से हुई इसकी शुरुआत
▶️हर साल 1 अक्टूबर को मनाया जाता है वर्ल्ड वेजिटेरियन डे, शाकाहारी भोजन को बढ़ावा देना है मकसद
▶️वर्ल्ड वेजिटेरियन डे की शुरुआत सन 1977 में हो गई थी, इसे इंडिया में नहीं बल्कि अमेरिका में वेजिटेरियन सोसाइटी के द्वारा शुरू किया गया है
▶️अगर आप शाकाहारी हैं तो आप घातक से घातक बीमारियां जैसे स्वाईन फ्लू, बर्ड फ्लू आदि को मात दे सकते हैं।

World Vegetarian Day 2020: हर साल 1 अक्टूबर को वर्ल्ड वेजिटेरियन डे मनाया जाता है, इस दिन को शाकाहारी दिवस के रूप में भी जानते हैं। वर्ल्ड वेजिटेरियन डे (World Vegetarian Day on 1 Oct.) मनाकर लोग शाकाहारी लोगों के प्रति आदर प्रकट करते हैं और देशभर में शाकाहारी भोजन को बढ़ावा देने का काम करते हैं। और आज एक ऐसा दौर है जहां लोग शाकाहारी भोजन को बेहद पसंद करने लगे हैं।

कैसे हुई शाकाहारी दिवस की शुरुआत?

किसी भी दिन या किसी भी त्यौहार को मनाने के पीछे कोई ना कोई कारण होता है। वर्ल्ड वेजिटेरियन डे (World Vegetarian Day’s Back History) मनाने के पीछे भी एक इतिहास है। दरअसल इस वर्ल्ड वेजिटेरियन डे की शुरुआत सन 1977 में हो गई थी। इसकी शुरुआत इंडिया में नहीं बल्कि अमेरिका के वेजिटेरियन सोसाइटी (Vegetarian Society America) के द्वारा किया गया। इसके पीछे एकमात्र कारण लोगों में शाकाहारी भोजन के प्रति रुचि पैदा करना था।

Worlds Vegetarian Day 2020

इसके अलावा ये सोसायटी जानवरों के शोषण में शामिल नहीं होना चाहता था जिसके कारण अंडे के सेवन पर भी रोक लगा दिया गया था, यही कारण है कि हर वर्ष 1 अक्टूबर को वर्ल्ड वेजिटेरियन डे (1st October Celebrated As World Vegetarian Day Since 1977) मनाया जाता है।

वेजिटेरियन होने के हैं तमाम फ़ायदे

शायद आपको जानकर हैरानी होगी कि वेजीटेरियन होने के तमाम फ़ायदे हैं। अगर आप शाकाहारी हैं तो आप घातक से घातक बीमारियों को मात दे सकते हैं। इसके अलावा आप जानवरों के शोषण में विश्वास नहीं करेंगे जिससे पर्यावरण भी साफ रहेगा।

world Vegetarian day 2020

साथ ही शाकाहारी लोगों में स्वाइन फ्लू (Swine Flu), बर्ड फ्लू (Bird Flu) और कैंसर जैसी दिक्कतें बहुत कम होती हैं। शाकाहारी लोगों की पाचन शक्ति भी बेहद स्ट्रांग होती है जिससे गैस और कब्ज आदि की समस्या नहीं होती।

वेजिटेरियन हैं तो ना करें ये काम

शाकाहारी लोग खाने पीने में काफी सतर्क रहते हैं, ऐसे में उन्हें कुछ नियमों का पालन करना होता है जैसे

  • शाकाहारी लोगों को विटामिन B12 पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल पाता, इसलिए शरीर से खून की कमी को दूर करने के लिए अपने भोजन में सोया, ओटमील पनीर आदि जरूर शामिल करें।
  • कई बार आपने देखा होगा कि जो लोग नॉनवेज नहीं खाते वो पनीर और चीज़ ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन कभी भी चीज़ और पनीर मीट की कमी को पूरा नहीं करते हैं। इसलिए खाने में प्लांट फूड शामिल करें।
World Vegetarian Day 2020
  • इस बात को स्वीकार करना होगा कि मांसाहारी लोगों के शरीर में कैलोरी की मात्रा अधिक होती है, जबकी उनकी तुलना में शाकाहारी लोगों में कैलोरी की मात्रा कम होती है ऐसे में शरीर को पर्याप्त मात्रा में कैलोरी प्रदान करें।
  • शरीर में कैल्शियम की मात्रा बनाए रखने के लिए उचित मात्रा में डेयरी प्रोडक्ट (Dairy Product) को शामिल करें, क्योंकि वेजिटेरियन लोगों में कैल्शियम (Calcium) की कमी हो जाती है, जिससे हड्डियों व घुटनों में दर्द की समस्या पैदा हो जाती है।
  • बॉडी में फाइबर की मात्रा बरकरार रखने के लिए शाकाहारी व मांसाहारी दोनों लोगों के लिए उचित मात्रा में पानी पीना जरूरी है खासकर शाकाहारी लोग दिन में 8 से 10 बड़े गिलास पानी जरूर पिएं।

शाकाहारी लोग बहुत स्वस्थ रहते हैं। खासकर संक्रमण वाली बीमारियों से वो हमेशा बचे रहते हैं। वर्ल्ड वेजिटेरियन डे मनाने के पीछे भी शाकाहारी भोजन को बढ़ावा देना है।

आगे पढ़ें-

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।