‘दिल बेचारा’ में किज़ी बासू को था थायराइड कैंसर, आपको भी इस खतरनाक बीमारी के बारे में होनी चाहिए ये बातें पता

‘दिल बेचारा’ में किज़ी बासू को था थायराइड कैंसर, आपको भी इस खतरनाक बीमारी के बारे में होनी चाहिए ये बातें पता
▶️ Thyriod Cancer Details: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आखिरी फिल्म दिल बेचारा (Dil Bechara) में हीरोइन संजना (Sanjana Shanghi) को होता है थायराइड कैंसर
▶️ दुनिया में कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनमें थायराइड कैंसर (Thyroid Cancer Details) पाया जाता है लेकिन उन्हें इसके बारे में देर से पता चलता है
▶️ इस आर्टिकल में आप थायराइड कैंसर क्या (what is thyroid cancer?) होता है, उसके लक्षण क्या हैं और इलाज के बारे में जान सकते हैं।

एक था राजा..एक थी रानी.. दोनों मर गए..ख़त्म कहानी। ये डायलॉग उस दिन से दर्शकों के दिल और दिमाग में बस गया था जब से सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी मूवी (Sushant Last Film) दिल बेचारा का ट्रेलर रिलीज़ (Dil Bechara Trailer) हुआ था। और लंबे इंतज़ार के बाद आखिरकार सुशांत का बॉलीवुड और उनके दर्शकों के लिए आखिरी तोहफा ‘दिल बेचारा (Dil Bechara On Disney+ Hotstar)’ 24 जुलाई को डिज्नी हॉटस्टार पर रिलीज़ हो गया।

Thyroid Cancer Details: दिल बेचारा में हीरो-हीरोइन दोनों होते हैं कैंसर से पीड़ित

मुकेश छाबड़ा की फ़िल्म दिल बेचारा (Mukesh Chhabada Dil Bechara) अंग्रेजी नॉवेल और फ़िल्म फॉल्ट इन अवर स्टार्स (Film Fault In Our Stars) पर आधारित है। इस मूवी में सुशांत सिंह राजपूत (Sushant As Manny) मैनी और संजना संघी (Sanjana As Kizie) किज़ी बासू का किरदार निभाते हुए नज़र आ रहें हैं। सुशांत की इस आखिरी फ़िल्म में मैनी और किज़ी दोनों ही कैंसर (Thyroid Cancer Details) के मरीज़ होते हैं। दोनों ही कैंसर (Thyroid Cancer Details) और प्यार के सफ़र में एक दूसरे का साथ बखूबी निभाते हैं।

Kizie Basu को होता है थायराइड कैंसर

किज़ी जिन्होंने इस मूवी से लीड एक्टर के तौर पर बॉलीवुड में डेब्यू किया, फ़िल्म में थायराइड कैंसर (Thyroid Cancer Symptoms in Hindi) से गुज़र रही होती हैं। हालांकि आप में से कई लोगों ने इस बीमारी के बारे में सुन रखा होगा लेकिन अभी भी कुछ लोग ऐसे होंगे जिनको इस बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं है। ऐसे में दिल बेचारा देखने के बाद हमें ख़्याल आया कि आपको इस बीमारी के बारे में जानकारी देनी चाहिए। इसलिए हम आपके लिए लेकर आए हैं थयरॉइड कैंसर (Thyroid Cancer Treatment) के बारे में जानकारी –

थायरॉइड कैंसर क्या होता है? (What Is Thyroid Cancer ?)

व्यक्ति को थायराइड कैंसर (Thyroid Cancer Details, Thyroid Cancer Symptoms in Hindi) तब होता है जब उसके शरीर में मौजूद कोशिकाएं अनुवांशिक परिवर्तन (Cell Genetic Change) से गुजरती है। जब यह प्रक्रिया शरीर में हो रही होती है तो इसके कारण कोशिकाएं तेजी से बढ़ती है और इनका गुणा भी तेजी से होता है। इतना ही नहीं ऐसा होने पर कोशिकाओं की मरने की क्षमता भी खत्म हो जाती है। और ऐसा जब काफी समय तक होता है आता है तो यह असामान्य का रोड कोशिकाएं ट्यूमर (Rode Cells Tyumer) को जन्म देती हैं।

Thyroid Cancer Details
Source: Medlife

क्या होते हैं थायराइड कैंसर के लक्षण? (Thyroid Cancer Symptoms)

Thyroid Cancer Symptoms In Hindi : आमतौर पर ऐसा होता है कि इसके शुरुआती लक्षण समझ में नहीं आते हैं। लेकिन जब धीमे-धीमे बढ़ने लगता है तो कुछ लक्षण महसूस हो सकते हैं जो इस प्रकार हैं

एक ऐसी घाट जो आपके गर्दन पर आपकी त्वचा के जरिए महसूस होने लगे
अचानक से ऐसा लगने लगा कि आप की आवाज में बदलाव हो रहा है। इसमें आपकी आवाज के स्वर का बढ़ना भी शामिल है।
खाते वक्त निगलने में कठिनाई का सामान सामना करना।
गले और गर्दन में लगातार दर्द होना या फिर आपकी गर्दन में सूजन के रूप में गांठे पड़ना।

क्या है थायराइड कैंसर का इलाज (What Is Thyroid Cancer Treatment ?)

डॉक्टर के मुताबिक थायराइड कैंसर (Thyroid Cancer Details) के ज्यादातर मामले नहीं मिले हैं यही वजह है कि अभी तक उसको रोकने का या खत्म करने का कोई तरीका नहीं बनाया गया। लेकिन कुछ तरीके हैं जिससे इसको हटाया जा सकता है.

लिंफ नोड सेक्शन (Limph Node Section)– ऐसी संभावना होती है कि थायराइड कैंसर (Thyriod Cancer Details) स्थानीय लिंफ नोड में फैल जाए ऐसे मैं इस मोड को हटाया जा सकता है। लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि जिस लिंफ नोड में प्रभाव पड़ा होता है उसको सिर्फ और सिर्फ सर्जरी के समय ही पहचाना जा सकता है।

टोटल थायराइडेक्टॉमी (Total Thyriodectomy): इस तरीके को थायराइड कैंसर (Tyriod Cancer Details) के लिए सबसे आम सर्जरी माना जाता है। मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक अगर यह सर्जरी सफल हो जाती है तो थायराइड कैंसर (Thyriod Cancer Treatment) पूरी तरीके से खत्म हो जाता है और यह भी संभावना होती है कि दोबारा नहीं हो।

अगर आप ऐसे किसी लक्षण या परेशानी का सामना कर रहे हैं तो हमारी सलाह है कि आप डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें। डॉक्टर की सलाह के बिना किसी भी प्रकार का इलाज ना करें।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Omkar Bhaskar

Omkar Bhaskar