क्या सरकार किसानो की बनेगी मीत और सकारात्मक होगी कल की बातचीत?

क्या सरकार किसानो की बनेगी मीत और सकारात्मक होगी कल की बातचीत?

सरकार, सुप्रीम कोर्ट और किसानो के त्रिकोनीय बातचीत में क्या होगा समाधान

किसानो के बीच क्या घुस गये हैं देश विरोधी संगठन

पी एम मोदी के खिलाफ नारे बाज़ी और कौन कर रहा है उनके मरने की कामना

Kisan andolan live update: नई दिल्ली -किसान आंदोलन के पचास दिनों के लगातार जारी रहने के बाद, सरकार के साथ 8 दौर की बातचीत के बाद और फिर उसके बीच में सुप्रीम कोर्ट के दखल और न्यायपालिका के द्वारा कमेटी गठित करने के पश्चात भी कोई निर्णय अभी तक किसानो के पक्ष में नहीं हो पाया, किसानों द्वारा कृषि बिलों को वापसी की माँग और सरकार द्वारा उसे लागू करने को फिलहाल सुप्रीम कोर्ट ने होल्ड में डाल दिया है ।

लेकिन इसी बीच सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित चार सदस्यों की कमेटी में से आज एक सदस्य बी के मान सिंह जी ने अचानक अपना नाम वापस ले लिया, सूत्रों की मैने तो उनको इस बाबत विदेश से फ़ोन के जरिये धमकी आ रही हैं, फिलहाल कई किसान यूनियनों ने मान के इस निर्णय का स्वागत किया है ।
इसी बीच पिछले कई दिनों सर किसानो के इस आंदोलन को ख़ालिस्तानियों द्वारा, हाईजैक की खबरें भी आ रही हैं ।

सूत्रों के अनुसार SFJ संगठन ने गणतंत्र दिवस की परेड पर किसानो को प्रलोभन देते हुये कहा है कि जो किसान इस परेड में खालिस्तान का झंडा फहरायेगा उसे 250के यू एस डालर का इनाम दिया जायेगा । कल एक और अचम्भित करनर वाली खबर आई थी जब इसी आंदोलन में पी एम मोदी के खिलाफ नारे बाजी और कई प्रदर्शनकारी मोदी के मरने कामना वाले नारे बाजी कर रहे थे ।
अब तय बात के अनुसार कल किसानो के संगठन और सरकार के बीच समाधान निकालने की नोवें दौर की बातचीत फिर होगी, देखना ये हैं कि किसानो की माँग को सरकार किस नतीजे पर ले जाती है, बनी रहेगी हम सबकी नजर..
बने रहिये THE TOSS NEWS पर..

thetossnews

thetossnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *