जानिए ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहे #Supportforbharatband, #भारतबंदनहींहोगा, #25सितंबरभारतबंद

जानिए ट्विटर पर क्यों ट्रेंड हो रहे #Supportforbharatband, #भारतबंदनहींहोगा, #25सितंबरभारतबंद
▶️कृषि अध्यादेशों के विरोध में किसान संगठनों ने 25 सितंबर को भारत बंद का किया ऐलान
▶️ट्विटर पर भारत बंद के समर्थन और विरोध दोनों के हैशटैग कर रहे ट्रेंड
▶️लोकसभा और राज्यसभा से तीनों कृषि विधेयक हो चुके हैं पारित

तमाम हंगामा और प्रदर्शनों के बीच मोदी सरकार द्वारा पहले लोकसभा और अब राज्यसभा से तीनों कृषि विधेयकों को पास कर दिया गया है। लेकिन सोशल मीडिया पर जंग रुकने का नाम नहीं ले रही है। ट्विटर पर लगातार 25 सितंबर को कृषि संगठनों द्वारा भारत बंद की घोषणा के समर्थन और विरोध में हजारों ट्वीट हो रहे हैं।

जानिए क्या है पूरा मामला

हम सभी ने संसद के भीतर विपक्ष द्वारा और संसद के बाहर सड़कों पर किसानों द्वारा कृषि विधेयकों का जबरदस्त विरोध प्रदर्शन देखा। हालांकि, कृषि विधेयक संसद से पारित हो चुके हैं लेकिन देश के कई कृषि संगठनों का इन अध्यादेशों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन खत्म नहीं हो रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक, देश के करीब 180 संगठनों द्वारा कृषि अध्यादेशों के विरोध में 25 सितंबर को भारत बंद की घोषणा की गई है। हरियाणा के कृषि संगठन भी भारत बंद में शामिल है। किसान संगठनों में प्रमुख रूप से भारतीय किसान यूनियन और अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति है।

ट्विटर पर मचा कोहराम

25सितंबरभारतबंद, #SupportForBharatBand, #भारतबंदनहींरहेगा, #25Sep5Baje25Minute जैसे कई हैशटैग ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे हैं। इन हैशटैग के साथ हजारों लोग ट्वीट कर रहे हैं। भारत बंद को लेकर भी दो पक्ष सामने आ रहे हैं। एक ओर कुछ लोग भारत बंद का समर्थन करते हुए ट्वीट कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर कई लोग इसके विरोध में भी अपने विचार रख रहे हैं।

भारत बंद हुआ तो क्या होगा?

कोरोना महामारी के कारण विरोध-प्रदर्शन भी वर्चुअल तरीके से आयोजित हो रहे थे। 25 सितंबर को कोरोना महामारी के बीच यह पहली बार होगा जब किसान अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर उतरेंगे। अखिल भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने बताया कि 25 सितंबर को किसान विरोध प्रदर्शन और चक्का जाम करेंगे। हरियाणा राज्य पूरी तरह से बंद रहेगा। यूपी के किसान भी अपने गांव, कस्बों और हाईवे का चक्का जाम करेंगे।

दिलचस्प बात यह है कि क्या 25 सितंबर के दिन जब किसान सड़कों पर चक्का जाम और जगह-जगह प्रदर्शन करेंगे, इस कोरोना काल में उन्हें किस तरह नियंत्रण में लाया जाएगा। सरकार के सामने चुनौती यह भी है कि किसानों को किस तरीके से मनाया जाए।

Manoj Thayat

Manoj Thayat

पत्रकारिता मनोज का जुनून है। इसी जुनून को जीने के लिए और अपने तरीके से ख़बरों को आप तक पहुँचाने के लिए मनोज The Toss News के साथ जुड़े हैं। मनोज को पढ़ने, लिखने और संवाद करने का बेहद शौक है। देश-दुनिया की ख़बरों को आप तक समय-समय पर पहुँचाना मनोज का लक्ष्य है। आप सभी रोज़ाना मनोज द्वारा लिखी गईं ख़बरें पढ़ सकते हैं और Comment में अपना Feedback भी दे सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *