Indo-Nepal Border Tension: नेपाल ने टनकपुर में नो मैन्स लैंड में किया अतिक्रमण, एक बार फिर नेपाल ने बढ़ाए अपने कदम

Indo-Nepal Border Tension: नेपाल ने टनकपुर में नो मैन्स लैंड में किया अतिक्रमण, एक बार फिर नेपाल ने बढ़ाए अपने कदम
▶️Indo-Nepal Border Tension: ‘नो मैन्स लैंड’ पर नेपाल के कदम, उत्तराखंड के टनकपुर में किया अतिक्रमण
▶️आखिर क्या चाहा रहा नेपाल, क्यों नहीं लगा रहा खुद पर लगाम
▶️भारत में एक बार फिर किया नेपाल ने प्रवेश, क्या और ख़राब होंगे नेपाल-भारत के रिश्ते (India-Nepal Relations)?

Indo Nepal Border Tension: 2020 में जहाँ एक तरफ़ भारत और चीन (Bharat-Chin Vivad) के बीच लगातार तनाव देखने को मिला। वहीं दूसरी तरफ़ नेपाल (Nepal) के साथ भी भारत के रिश्ते (India-Nepal Relations) ख़राब होते नज़र आए। इसी कड़ी में नेपाल ने एक बार फिर से भारत के साथ अपने संबंधों को ख़त्म करने की कोशिश की। दरअसल, नेपाल ने भारतीसीमा (Nepal Crosses Indian Border) को फिर से पार कर दिया है।

आपको बता दें कि हाल ही में नेपाल ने इंडो-नेपाल सीमा (Indo Nepal Border Tension) के पास सटे टनकपुर में “नो मैन्स लैंड” पर अतिक्रमण (Tanakpur No Mans Land Violation) किया है। इस सिलसले पर अब भारत के चंपावत के जिला अधिकारी और नेपाल के कंचनपुर के अधिकारी आपस में बातचीत करेंगे। चंपावत के पुलिस एसपी लोकेश्वर सिंह (SP Lokeshwar Singh, Champawat Police) का कहना है कि नेपाली अधिकारियों ने खंभा नंबर 811 का एक सर्वेक्षण किया था, जो कि सवाल का मुख्य केंद्र है। आपको बता दें कि नेपाल ने इससे पहले रविवार को ब्रह्मदेव गांव (Brahamdev Goan) का दौरा किया था।

Indo Nepal Border Tension: वादे से बार-बार मुकरता है नेपाल

इससे पहले पिछले ही हफ्ते, नेपाल के अधिकारियों ने आश्वासन दिया था कि टनकपुर के पास सीमा क्षेत्र (Tanakpur Border Area) में नो मैन्स लैंड में वृक्षारोपण अभियान (Plantation at No Mans Land) को रोक दिया जाएगा। लेकिन नेपाल अपनी बात से मुकर गया और टनकपुर सीमा में वृक्षारोपण अभियान किया। इस मामले के खिलाफ स्थानीय अधिकारियो खड़े थे और गुरवार को नेपाल के साथ इस मामले में बातचीत भी की गयी थी। यही नहीं इससे पहले भी नेपाल ने टनकपुर सीमा पर फेंसिंग (Tanakpur Border Fenceing) भी लगा दी थी।

Indo Nepal Border Tension
Source- Times Now

क्यों नहीं समझ रहा नेपाल, ज़मीन पर कब्जा कर बता रहा है अपना

नेपाल टनकपुर (Tanakpur-Nepal News) की 150 स्कवायर मीटर लम्बी जमीन को नेपाल (Indo Nepal Border Dispute) का हिस्सा बता रहा है जबकि भारत ने इसे दोनों देशों के बीच नो मैन्स लैंड बताता है। टनकपुर के अधिकारियो के अनुसार नेपाल के लोगो ने पिलर नंबर 811 से टनकपुर (Tanakpur Uttarakhand) तक का पूरी जगह पर कब्ज़ा कर लिया है। हाल ही में नेपाल ने बिहार बॉर्डर (Bihar Border) पर भारत और नेपाल के बीच फेंसिंग लगा दिया है।

नेपाल घिनौना रूप

नेपाल (Indo Nepal Border Tension) के सशस्त्र पुलिस बल (APF) ने पिछले दिनों एक महिला सहित दो भारतीय ग्रामीणों को घायल कर दिया। नेपाल के ऐपीएफ (Nepal APF) ने भारतीय महिला के साथ बदसलूकी करने की कोशिश की, जब महिला अपने कुछ साथियो के साथ नेपाल के नरकटिया जिले (Narkatiya Distt. Nepal) में चारे का सामान लेने गयी। एपीएफ (Nepal APF) के जवानो ने महिला को बेरहमी से मार उसको और उसके साथियो को घायल कर दिया।

आपको बता दें की नेपाल और भारत (Nepal India Dispute) के बीच ये तनाव कई साल पुराना है लेकिन अब दोनों देशो के बीच स्थिति बिगड़ती दिखाई दें रही है। ये तनाव नेपाल के पीएम केपी शर्मा औली (Nepal PM KP Sharma Oli) के नेतृत्व में जयदा दिखाई दे रही है। भारत और नेपाल (Indo Nepal Border Tension) के बीच कालापानी (Kalapani), लिपुलेख दर्रा (Lipulekh Darra) और लिंपियाधुरा दर्रा (Limpiyadhura Darra) के विषय में विवाद बना हुआ है.। अब देखना यह होगा कि भारत और नेपाल की इस बैठक में क्या निष्कर्ष निकलकर आता है। और क्या नेपाल नो मैन्स लैंड (Nepal No Mans Land Violation) पर दुबारा अपना कब्ज़ा जमा पायेगा।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Omkar Bhaskar

Omkar Bhaskar