जाने इस बार कब मनाई जाएगी गणेश चतुर्थी, कैसे रखें शुभ मूहर्त का ध्यान

जाने इस बार कब मनाई जाएगी गणेश चतुर्थी, कैसे रखें शुभ मूहर्त का ध्यान
▶️गणेश चतुर्थी का त्योहार हर वर्ष भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है
▶️इस बार 22 अगस्त को मनाई जाएगी गणेश चतुर्थी, कोरोना की गाइडलाइंस का रखना होगा ध्यान
▶️कोरोना के कारण इस बार बैंड-बाजे के साथ घर नहीं आ सकते गणपति बप्पा

गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2020) का पर्व आने वाला है, इस बार ये त्योहार (Ganesh Chaturthi Date) 22 अगस्त को मनाया जाएगा। गणेश चतुर्थी का त्योहार हर वर्ष भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाया जाता है। मान्यता है कि इस दिन भगवान गणेश का जन्म हुआ था।

भगवान गणेश के पूजन से घर में रहती है सुख-समृद्धि

माना जाता है कि भगवान गणेश (Lord Ganesh) को बच्चे बहुत पसंद है। यही कारण है कि इनकी पूजा से घर में सुख- समृद्धि आती है। क्योंकि नन्हे बच्चे सुख- समृद्धि का एक हिस्सा होते हैं। इसके अलावा भगवान गणेश (Ganesh Chaturthi 2020) को खुश करने के लिए ज्यादा मेहनत नहीं करनी होती, ये चंचल व बाल स्वभाव के होते हैं जिसके कारण ये जल्दी ही प्रसन्न हो जाते हैं। और अपने भक्तों को मनवांच्छित फल देते हैं।

Ganesh Chaturthi 2020

बेहद हर्सोल्लास के साथ होता है भगवान गणेश का आगमन

गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2020) को लोग बेहद हर्ष और खुशी के साथ मनाते हैं। ढोल, बैंड-बाजों के साथ गणपति बप्पा को अपने घर लाते हैं। खूब नाच, गाना होता है। मोदक बांटे जाते हैं। और भगवान गणेश (Lord Ganesh Statue) को घर में स्थापित करने के अगले 10 दिन बाद विसर्जन किया जाता है। पंडितों के अनुसार गणेश चतुर्थी के दिन गणपति बप्पा की स्थापना मध्याह्न के समय करनी चाहिए, क्योंकि इस समय इनका जन्म हुआ था।

देखें गणेश चतुर्थी की जानकारी से जुड़ा ये वीडियो:

कोरोना काल में गणेश चतुर्थी

इस बार कोरोना (corona virus) ने सभी त्योहारों पर ग्रहण लगा दिया है। जाहिर तौर पर अब इसका असर गणेश चतुर्थी पर भी देखने को मिलने वाला है। साथ ही महाराष्ट्र में इस त्योहार का विशेष महत्व है और इस बार महाराष्ट्र (Maharashtra Festival) ही कोरोना का केंद्र है। जिसके कारण इस बार की गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi 2020) काफी फीकी रहने वाली है। अब आप पहले की तरह भीड़ और धूमधाम से गणपति बप्पा को घर नहीं ला सकते हैं।

खैर अब ये कोरोना तो जीवन का हिस्सा बन गया है। इस बीच ही हमें गणपति बप्पा (Ganpati Bappa Ki Puja) को घर लाना है। गणपति बप्पा को भरापूरा परिवार बेहद प्रिय है ऐसे में प्रतिमा स्थापना के बाद पूरे परिवार के साथ भगवान गणेश की आरती करें। स्थापना के दिन नाहा कर मूर्ति को घर लाएं। और ध्यान रहे आरती के समय शब्दों का गलत उच्चारण ना करें।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।