पहली बार सोने, चांदी के दामों ने छुआ आसमान, यहां हैं वो 5 कारण जिसके कारण तेजी से भाग रहे हैं रेट

पहली बार सोने, चांदी के दामों ने छुआ आसमान, यहां हैं वो 5 कारण जिसके कारण तेजी से भाग रहे हैं रेट
▶️ Gold-Silver Rates: सोने चांदी की कीमतों में आई तेजी, अब तक के सबसे ऊंचे स्तर पर पर पहुंची कीमत
▶️सोने चांदी की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद गोल्ड (Gold Rate 2020) प्रति 10 ग्राम 53,975 तक और वहीं 1kg चांदी (Silver Rate 2020) के दाम 64,710 तक जा चुका है।
▶️ कोरोना वायरस (Corona Virus Padamic) के कारण बिगड़ी अर्थव्यवस्था है दाम बढ़ने का मेन कारण

कोरोना वायरस महामारी (Corona Virus Padamic) का असर पूरे विश्व पर पड़ा है जिसके कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था (Global Economy Collapse) चरमरा गई है। और अब सोने-चांदी के दाम (Gold-Silver Rates) भी आसमान छू रहे हैं। भारत में सोने को शुभ धातुओं में गिना जाता है, किसी की शादी हो या जन्मदिन पार्टी या फिर कोई और फंक्शन सभी में सोने (Gold-Silver Rate) का प्रयोग किया जाता है। लोग सोने का संचय भी करते हैं ताकि जरूरत पड़ने पर वो इसका उपयोग कर सकें।

Gold-Silver Rate: सोने, चांदी के वर्तमान दाम हैं हैरान करने वाले

भारत ही नहीं पूरा विश्व कोरोना वायरस (Corona Virus Padamic) के मकड़जाल में फंस चुका है इस स्थिति में देशों की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। लगातार सोने, चांदी की कीमतों (Gold-Silver Rate) में उछाल आ रहा है। लेकिन कल सोना, चांदी की कीमत (Gold-Silver Rate) अब तक के सबसे ऊंचे दामों पर पहुंच चुका है। अभी गोल्ड (Gold Rate) प्रति 10 ग्राम 53,975 तक और वहीं 1kg चांदी के दाम (Silver Rate) 64,710 तक जा चुके हैं।

कोरोना वायरस (Corona virus) के दौरान लगातार सोने,चांदी की कीमतों में उछाल आ रहा हैं। आइए उन 5 वजहों का पता लगते हैं जो इनकी कीमत बढ़ने के लिए जिम्मेदार हैं।

  1. कोरोना वायरस का कहर

कोरोना वायरस (Corona Virus) भारत ही नहीं पूरी दुनिया भर में अपना प्रकोप बरपा रहा है ऐसे में लॉकडाउन के दौरान समस्त चीजें बंद कर दी गई थी जिससे अर्थव्यवस्था (Global Economy Collapse) की रफ्तार काफी धीमी हो गई थी। कई देशों की अर्थव्यवस्था बिल्कुल चरमरा गई है। जिस कारण सोने चांदी के भावों में भी भारी उछाल देखने को मिल रहा है और इनके भाव आसमान छू रहे हैं।

  1. वैश्विक हलचल

भारत अपने सोने की आवश्यकताओं के लिए अधिकतर दूसरे देशों पर निर्भर है। ज्यादातर सोना (Gold Rate) भारत आयात करता है लेकिन वैश्विक बाजार (Global Market) में हलचल होने की वजह से भारत के सोने (Gold Rate In India) के दामों पर भी इसका असर पड़ा है। विश्व में राजनीतिक उठापटक से और कई कारणों से आय सोने के भावों में उछाल से भारत पर काफी असर पड़ा है।

Gold-Silver Rate
  1. सर्राफा बाजार

भारतीय लोग सोने के गहनों (Gold Jwellary) को बहुत ज्यादा पसंद करते हैं कोई भी फंक्शन चाहे वो शादी हो यह किसी का मुंडन लोग सोने का उपयोग करते हैं। दिवाली शादी के अवसरों पर भी सोने का दाम (Gold-Silver Rate Increases) बढ़ जाता है क्योंकि इसकी डिमांड मार्केट (Sarafa Market) में ज्यादा हो जाती है और सप्लाई कम होती है जिसके कारण इसके दाम बढ़ने लगते हैं।

4.सरकार द्वारा संचय

सरकार द्वारा भी सोने के एक बड़े भाग का संचय किया जाता है। आरबीआई भारत (RBI India) में सोने का संजय करता है जिससे कि जरूरत पड़ने पर हम उसका उपयोग कर सकें। लेकिन कीमतों में उछाल अर्थव्यवस्था (Economy) दुरुस्त ना होने की वजह से हो रही है।

5.डिमांड बढ़ना

डिमांड (Demand Of Gold & Silver) बढ़ने से भी सोने की कीमतों पर असर पड़ता है त्योहारों, शादियों के सीज़न में सोने की डिमांड (Gold Demand) ज्यादा हो जाती है। सप्लाई कम होने के कारण इसके प्राइज़ (Gold Rate Increase) में बढ़ोतरी होती है। जिसकी वजह से सोने की कीमतें बढ़ जाती हैं यही कारण है कि जब कोई त्यौहार नहीं होता तभी लोग सोने का संचय कर लेते हैं।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Diksha Gupta

Diksha Gupta

दीक्षा उन लेखकों में से हैं जिनको शब्दों से बेहद प्यार हैं। और इन शब्दों को खूबसूरत तरीके से पन्ने पर उतारना दीक्षा को काफ़ी पसंद है। आप सब तक ख़बरें पहुंचाने के अलावा दीक्षा को कविताएं लिखना भी पसंद है। शौक की बात करें तो दीक्षा डांस में भी रूचि रखती हैं। और एक ऐसी लड़की हैं जिन्हें नई चीज़ें सीखने में मज़ा आता है। दीक्षा का मानना है की वह लक्ष्य कि प्राप्ति के लिए ही ईश्वर पर और खुद पर विश्वास करना पसंद करती हैं.