कोरोना काल को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतीरमण ने जताई चिंता, अभी तक नहीं बन पाई कोई दवा, GDP भी खतरे में

कोरोना काल को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतीरमण ने जताई चिंता, अभी तक नहीं बन पाई कोई दवा, GDP भी खतरे में
▶️कोरोना स्थिति को देखते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश की जीडीपी अभी भी खतरे में है
▶️वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि अप्रैल-जून तिमाही में जीडीपी में भी 23.9 फीसदी की गिरावट हुई है
▶️साथ ही ये कोरोना का संकट कब तक खत्म होगा और वैक्सीन कबतक आएगी इसका भी कुछ अता पता नहीं है- वित्त मंत्री

Niramala Sitharaman On GDP: देशभर में कोरोना संक्रमण (Corona Virus) ने उत्पात मचाया हुआ है। करीब सात महीनों के बाद भी संक्रमण में कमी आने की बजाय आंकड़े औऱ बढ़ते जा रहे हैं। हर दिन करीब 90 हज़ार नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं। तमाम सावधानियों औऱ कोरोना गाइडलाइंस का पालन करने के बाद भी आंकड़ों में कोई कमी नहीं आई है। ऐसे में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman On GDP) ने कहा कि देश की जीडीपी अभी भी खतरे में है।

देश की जीडीपी अभी भी खतरे में- वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन (Corono Virus Lockdown) ने सभी की हालत खराब कर दी है, खासकर इस बीच देश की जीडीपी के साथ जो हुआ है वो काफी चिंता का विषय है। निर्मला सीतारमण ने बताया कि अप्रैल-जून तिमाही में जीडीपी में भी 23.9 फीसदी की गिरावट हुई है। वित्त मंत्री ने कहा कि कोरोना काल के सात महीने बीत जाने के बाद भी देश की अर्थव्यवस्था (Indian Economy In Danger) अभी भी खतरे में है।

देश की अर्थव्यवस्था के सामने खड़ी हुई चुनौती

आपको बता दें कि हाल ही में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman Interview) एक एक निजी अखबार को इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था अभी भी खतरे में है औऱ इसके सामने कई तरह की चुनौतियां हैं। साथ ही ये कोरोना का संकट कब तक खत्म होगा और वैक्सीन (Corona Vaccine) कबतक आएगी इसका भी कुछ अता पता नहीं है।

Nirmala Sitharaman  on GDP

वित्त मंत्री ने कहा कि करीब 7 महीने हो गए हैं और अभी भी देश की अर्थव्यवस्था में कोई सुधार नहीं हुआ है बल्कि औऱ भी कई तरह की चुनौतियां खड़ी हो गई हैं। मंत्रालय भी सामने खड़ी हुई समस्याओं के समाधान में जुटा हुआ है जिससे किसी और तरह की समस्या देश के सामने ना आ सके।

लोगों में कोरोना को लेकर बढ़ी है जागरूकता

कोरोना को लेकर वित्त मंत्री ने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों में काफी कमी आई है मृत्यु दर में भी गिरावट दर्ज हुई है और इसका एकमात्र कारण जागरूकता है। अब लोग ये समझने लगे हैं कि बाहर निकलते समय सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing), मास्क पहनना और बार-बार हाथ धोना लाइफ का हिस्सा बन गया है यही कारण है कि लोग इन नियमों का बखूबी पालन कर रहे हैं।

अभी तक कोरोना की कोई दवा नहीं बन पाई है। अगर जान बचाना है तो सावधानी ही इसकी एकमात्र दवा है। क्योंकि वैक्सीन (Corona Vaccine) कबतक आएगी औऱ कब ये संक्रमण कमजोर होगा कुछ कहा नहीं जा सकता। इसी बीच जीडीपी का खतरा (GDP In Danger) और सर चढ़कर बोल रहा है, छोटे व्यपारियों को अर्थव्यवस्था की दोहरी मार लगी है। जल्दी ही इन सबसे निपटारा पाने की कोशिश की जा रही है।

आगे पढ़ें-

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *