कश्मीर में फिर होगी कुर्बानियां और बहेगा खून!

कश्मीर में फिर होगी कुर्बानियां और बहेगा खून!
▶️ पूर्व जम्मू कश्मीर मुख्यमंत्री और पीडीपी पार्टी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती पर राष्ट्रध्वज के अपमान के लगे आरोप
▶️ नजरबंद के बाद पहली कॉन्फ्रेंस में महबूबा मुफ्ती बोली- जम्मू कश्मीर का झंडा हाथों में होगा, तब तिरंगा भी उठाएंगे
▶️ दिल्ली से लेकर जम्मू तक महबूबा मुफ्ती के खिलाफ कार्रवाई की उठी मांग, देशद्रोह के लगे आरोप

Mehbooba Mufti Controversial Statement: जम्मू-कश्मीर, भारत के मानचित्र में एक ऐसा राज्य जिसे देखने पर लगता है कि यह राज्य भारत का शीश है। राज्य की प्राकृतिक सौंदर्य ऐसा की मानो स्वर्ग में घूम रहे हो। हरी-भरी और बर्फीली पहाड़ियां, झीलें, वनस्पतियां, जीव-जंतु राज्य के सौंदर्य में चार चांद लगा देते हैं, लेकिन यह लिखते हुए दुख होता है कि सौंदर्य से भरे इस राज्य ने हमेशा ही हिंसा का सामना किया। राज्य की शांति हमेशा ही बहाल रही। कभी यह राज्य आतंकवादी (Terrorists) दुश्मनों से लड़ा तो कभी राज्य में ही पल रहे दुश्मनों से लड़ता रह गया। वर्तमान समय में जब हम नेट स्पीड कम होने पर ही सिस्टम के ऊपर सवाल उठाते हैं उस समय इस राज्य के लोग कई महीनों तक बिना नेटवर्क के जीवन यापन करते हैं। राज्य में एक बार फिर से राजनीतिक हलचल आने वाली डरावनी घटनाओं की आहट दे रही है।

महबूबा मुफ्ती के बयान से घाटी में बवाल

करीब 14 महीने तक हिरासत में रहने के बाद जम्मू कश्मीर राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti Former CM Jammu-Kashmir) रिहा हुई। जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा हटने के बाद यह पहला मौका था जब महबूबा मुफ्ती मीडिया के सामने आई।

महबूबा मुफ्ती ने प्रेस से बातचीत करते हुए कहा कि 5 सितंबर 2019 को राज्य से उसका झंडा छीना गया। जब तक हम लोगों को हमारा झंडा (जम्मू कश्मीर) नहीं मिलेगा तब तक हम भारतीय झंडे को नहीं उठाएंगे। जम्मू कश्मीर का झंडा हमारे संविधान का हिस्सा है। जब जम्मू कश्मीर का झंडा हमारे हाथों में होगा तभी हम दूसरा झंडा उठाएंगे। महबूबा द्वारा बीजेपी (Mehbooba Mufti On BJP) पर निशाना साधते हुए यह भी कहा गया कि बीजेपी संविधान की जगह अपना घोषणा पत्र जनता के ऊपर थोपना चाहती हैं।

महबूबा मुफ्ती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस (Mehbooba Mufti Press Conference) के दौरान यह भी कहा कि जम्मू कश्मीर के लिए हजारों युवाओं ने कुर्बानी दी, अब वक्त जम्मू कश्मीर के राजनेताओं का खून बहाने का।

महबूबा मुफ्ती पर कार्रवाई की उठी मांग

Mehbooba Mufti Controversial Statement On Indian National Flag

शुक्रवार को महबूबा मुफ्ती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की जिसके बाद से केंद्र और जम्मू कश्मीर की राजनीति (Jammu-Kashmir Politics) में बवाल सा मच गया। इन बयानों के बाद जम्मू-कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष रविंद्र राणा ने कहा, मैं लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा से अनुरोध करता हूं कि महबूबा मुफ्ती द्वारा दिए गए देशद्रोही बयान पर संज्ञान ले। महबूबा मुफ्ती के खिलाफ देशद्रोह के तहत मामला दर्ज हो और इन्हें सलाखों के पीछे भेजा जाए। महबूबा मुफ्ती के राष्ट्रध्वज वाले बयान पर दिल्ली पुलिस में मामला भी दर्ज हो चुका है। सुप्रीम कोर्ट के वकील विनीत जिंदल ने महबूबा के खिलाफ नेशनल ऑनर एक्ट और तमाम धाराओं के तहत कार्रवाई करने की मांग की है।

आगे पढ़ें-

Manoj Thayat

Manoj Thayat

पत्रकारिता मनोज का जुनून है। इसी जुनून को जीने के लिए और अपने तरीके से ख़बरों को आप तक पहुँचाने के लिए मनोज The Toss News के साथ जुड़े हैं। मनोज को पढ़ने, लिखने और संवाद करने का बेहद शौक है। देश-दुनिया की ख़बरों को आप तक समय-समय पर पहुँचाना मनोज का लक्ष्य है। आप सभी रोज़ाना मनोज द्वारा लिखी गईं ख़बरें पढ़ सकते हैं और Comment में अपना Feedback भी दे सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *