हैदराबाद में बाढ़ ने मचाई तबाही, राज्य में अब तक 50 लोगों की मौत, अलर्ट जारी

हैदराबाद में बाढ़ ने मचाई तबाही, राज्य में अब तक 50 लोगों की मौत, अलर्ट जारी
▶️ इस हफ्ते की शुरुआत से ही बाढ़ की परेशानी से जूझ रहा हैदराबाद
▶️ तेलंगाना सरकार के मुताबिक राज्य में अब तक 50 लोगों की मौत, 9,000 हजार करोड़ का नुकसान
▶️ आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगमोहन रेड्डी ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर मदद की लगाई गुहार

Hyderabad Flood News 2020 | भारत के दक्षिण-पूर्वी (South-East states) राज्यों में बारिश के कारण आने वाली बाढ़ हर साल बड़ी समस्याएं लेकर आती है। कुछ महीने पहले केरल (Kerala) और बिहार (Bihar) जैसे राज्य बाढ़ में डूबते नजर आ रहे थे। अब इस सप्ताह के शुरुआत से हैदराबाद राज्य बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित है। एक ओर कोरोना का संक्रमण देशभर में जारी है। ऊपर से तेलंगाना (Telangana), आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और महाराष्ट्र जैसे राज्यों के लोगों के ऊपर बारिश के कारण दोहरी मार पड़ रही है।

हैदराबाद में बाढ़-बारिश का कहर

Scenes from Hyderabad flood 2020

हैदराबाद (Hyderabad) में बीते दिनों हुई भयंकर मूसलधार बारिश से पूरा शहर डूबता नजर आया। भारी बारिश के कारण लोगों के घरों, सड़कों अन्य जगह जलभराव हो गया। जिस कारण लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। बारिश के कारण हुए ट्रैफिक जाम (traffic jam) से यातायात प्रभावित रहा। भीषण बारिश के कारण लोगों को भारी जान-माल की हानि भी उठानी पड़ी।

कुछ दिन पहले आई खबर के अनुसार राज्य में बाढ़ के कारण 11 लोगों की मौत हुई। हालांकि कुछ रिपोर्टों में इस बात की पुष्टि की गई है कि राज्य में अब तक 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। अनुमान के मुताबिक बाढ़ के कारण लोगों का 9000 करोड़ से अधिक का नुकसान (loss) हो चुका है। भारतीय मौसम विभाग की रिपोर्ट की माने तो राज्य में अगले आने वाले 6 दिनों में भी भारी बारिश की संभावना है।

मुख्यमंत्री ने केंद्र से लगाई मदद की गुहार

Cars sink in Hyderabad flood

समाचार एजेंसी पीटीआई (PTI) के अनुसार, तेलंगाना के मुख्यमंत्री वी एस जगमोहन रेड्डी (CM VS Jagmohan Reddy) द्वारा कहा गया कि राज्य में 9 से 13 अक्टूबर तक हुई बारिश के कारण करीब 4,450 करोड का नुकसान हुआ है। मुख्यमंत्री ने यह भी जानकारी दी कि राज्य में सड़कों, विद्युत केंद्रों को भारी नुकसान झेलना पड़ा है। किसानों की फसलों को भी नुकसान हुआ।

मुख्यमंत्री ने बीते शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) को पत्र लिखकर राज्य में बाढ़ के कारण बहाल हुई स्थिति को ठीक करने के लिए 2250 करोड़ की राहत राशि की मांग की है।

महाराष्ट्र राज्य की हालत भी गंभीर

भारी बारिश के कारण महाराष्ट्र की स्थिति भी काफी खराब हुई है। बीते कई दिनों से महाराष्ट्र (Maharashtra) में भी लगातार बारिश हो रही है। जिस कारण महाराष्ट्र के लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बारिश के कारण महाराष्ट्र के बारामती (Baramati bridge collapse) में पुल बह गया। जिस बाद करीब 15 गांव से संपर्क टूट गया था। भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि वो बाढ़ प्रभावित इलाकों का 19 अक्टूबर को दौरा करेंगे। मौसम विभाग ने महाराष्ट्र में भी भारी बारिश का अनुमान लगाया है।

2020, पहला साल नहीं है कि बाढ़ के कारण देश के कई राज्य जूझ रहे हो। हर साल दक्षिण-पूर्वी समेत कई राज्यों में भारी बारिश होने के कारण जान-माल की बड़े स्तर पर नुकसान होता है। सरकार द्वारा हर साल कहा जाता है कि अगर राज्य में बाढ़ की संभावनाएं बनती है तो राज्य सरकार (state government) पूरी तरह से तैयार है, लेकिन बाढ़ के समय राज्य और केंद्र सरकारों की तैयारियां धरी की धरी रह जाती है। आम जनता को ही समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

आगे पढ़ें

Manoj Thayat

Manoj Thayat

पत्रकारिता मनोज का जुनून है। इसी जुनून को जीने के लिए और अपने तरीके से ख़बरों को आप तक पहुँचाने के लिए मनोज The Toss News के साथ जुड़े हैं। मनोज को पढ़ने, लिखने और संवाद करने का बेहद शौक है। देश-दुनिया की ख़बरों को आप तक समय-समय पर पहुँचाना मनोज का लक्ष्य है। आप सभी रोज़ाना मनोज द्वारा लिखी गईं ख़बरें पढ़ सकते हैं और Comment में अपना Feedback भी दे सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *