दिल्ली में सांस लेना हुआ मुश्किल, हवा की गुणवत्ता हुई बेहद खराब

दिल्ली में सांस लेना हुआ मुश्किल, हवा की गुणवत्ता हुई बेहद खराब
▶️ साल 2020 में जून से अक्टूबर में हवा का स्तर खराब दिखा औऱ अब धीरे धीरे ये औऱ भी बेकार होता जा रहा है
▶️ दिल्ली के वाज़ीरपुर में अब तक की सबसे खराब स्थिति AQI 372 थी जो बहुत पूअर कैटेगरी में आती है
▶️ दिल्ली-एनसीआर में हवा की खराब होती स्थिति को देखते हुए सरकार की तरफ से कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं

हर बार साल के कुछ महीने ऐसे हो जाते हैं जिसमें रहना तो दूर सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है, और वो महीने होते हैं दिवाली के समय के यानी नवंबर, दिसंबर, इन महीनों में प्रदूषण का स्तर इतना बिगड़ जाता है कि एक स्वस्थ व्यक्ति भी बिमारियों की जाल में उलझ जाता है। लेकिन एक बार फिर परेशानियों का दौर शुरू हो गया है, जी हां…दिल्ली की हवा दूषित होती जा रही है।

दूषित हो रही है दिल्ली की हवा

आपको बता दें कि साल 2020 में जून से अक्टूबर में हवा का स्तर खराब दिखा औऱ अब धीरे धीरे ये औऱ भी बेकार होता जा रहा है। और आज भी स्थिति बेहद खराब है, दिल्ली के वाज़ीरपुर में अब तक की सबसे खराब स्थिति AQI 372 थी जो बहुत पूअर कैटेगरी में आती है।

दूषित होती हवा को देखकर परेशान हुए दिल्लीवासी

खुद को फिट और स्वस्थ रखने के लिए रोज़ाना सुबह लोग पार्क में एक्सरसाइज करने जाते हैं लेकिन इन दिनों खराब होती हवा को देखते हुए लोगों को काफी परेशानी हो रही है। सुबह के समय एक्सरसाइज करने पार्क पहुंचे एक व्यक्ति का कहना है कि, मैं पूरे परिवार के साथ रोज़ाना यहां आता हूं, लेकिन कुछ दिनों से आंखों में जलन महसूस हो रही है औऱ ये समस्या केवल मुझे ही नहीं हो रही बल्कि आसपास के लोग भी इसकी शिकायत करते हैं।

सांस लेने में हो रही है तकलीफ

Image source- The indain express

कुछ लोगों का कहना है कि सांस लेने में तकलीफ हो रही है गले में कुछ फंसा हुआ लगता है। वहीं कुछ लोगों ने कहा कि हम पहले अपने बच्चों को भी लाते थे लेकिन जबसे हमें ये दिक्कतें आ रही हैं तबसे हमने बच्चों को लाना छोड़ दिया है।

प्रदूषण से लड़ने के लिए तैयार है दिल्ली सरकार

आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर चाहे कितना ही बढ़ जाए अब दिल्ली सरकार इस समस्या से लड़ने के लिए तैयार बैठी है। दरअसल दिल्ली-एनसीआर में हवा की खराब होती स्थिति को देखते हुए सरकार की तरफ से कुछ  दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं जिनमें डीजल जनरेटर बैन कर दिया गया है।

दिल्ली सरकार की तरफ से एक टीम का गठन किया गया जो प्रदूषण के स्तर का ध्यान रखेगी। ये टीम मॉनिटरिंग रूम में बैठेगी और देखेगी की निर्देशों का पालन हो रहा है या नहीं।

नियमित रूप से होगी साफ सफाई

दिल्ली में प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए नियमित रूप से सड़कों की साफ-सफाई की जाएगी। इसके लिए जगह-जगह छिड़काव भी किए जाएंगे जिसके लिए मशीने लगाई जाएंगी। जानकारी के अनुसार यदी हवा की गुणनत्ता बिगड़ती है तो कोरोना का खतरा बढ़ सकता है, औऱ स्थिति ऐसी पैदा हो जाएगी की हवा में सांस लेने वाला भी कोरोना संक्रमित हो सकते हैं। सरकार की तरफ से इस समस्या के समाधान पर भी काम किया जा रहा है।

आगे पढ़ें-

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।