CBI ने अपने हाथों में लिया हाथरस गैंगरेप और हत्या का मामला, सीएम योगी ने की थी सिफारिश

CBI ने अपने हाथों में लिया हाथरस गैंगरेप और हत्या का मामला, सीएम योगी ने की थी सिफारिश
▶️योगी सरकार की सिफारिश पर हाथरस गैंगरेप मामले में सीबीआई करेगी अब जांच
▶️सीबीआई जांच से पहले मामले की अब तक जांच कर रही एसआईटी, जल्द सौंप सकती है अपनी रिपोर्ट
▶️सीबीआई मांगेगी अब तक की जांच की रिपोर्ट और एफआईआर की कॉपी, सीबीआई टीम जल्द पहुंचेगी पीड़िता के गांव

Hathras Case CBI Inquiry: हाथरस गैंगरेप मामले को करीब 1 महीने होने वाला है। मामले की अब तक की जांच से किसी भी प्रकार की स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आई है। हालांकि एसआईटी द्वारा जल्द ही मामले की रिपोर्ट पेश की जाएगी। योगी सरकार (Yogi Goverment) ने केंद्र से सिफारिश की थी कि हाथरस गैंगरेप मामले में सीबीआई (Hathras Case CBI Inquiry) को जांच के निर्देश दिए जाए। केंद्र सरकार द्वारा सीबीआई जांच के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है।

हाथरस गैंगरेप मामले की अब होगी सीबीआई जांच

योगी सरकार द्वारा 3 अक्टूबर को मामले की सीबीआई जांच कराने का फैसला लिया गया था। जिसके अगले ही दिन गृह विभाग द्वारा सीबीआई जांच की सिफारिश केंद्र सरकार (Hathras Case CBI Inquiry Demend) को भेजी गई थी। शनिवार को केंद्रीय कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग द्वारा सीबीआई जांच की अधिसूचना जारी कर दी गई है। जानकारी के मुताबिक, सीबीआई जल्द ही पीड़िता के गांव पहुंचेगी। सीबीआई द्वारा एसआईटी से अब तक की जांच रिपोर्ट और एफआईआर की कॉपी भी मांगी गई है। फॉरेंसिक विशेषज्ञों (Forensic Specialist) के साथ सीबीआई टीम जल्द घटनास्थल पर पहुंचेगी

Hathras Gangrape Case Now Investigated by CBI

अब तक कौन कर रहा था मामले की जांच?

14 सितंबर को यूपी के हाथरस (Hathras Gangrape Case) में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना हुई थी। मामले को करीब-करीब एक महीना होने वाला है लेकिन अभी तक कोई भी स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आई है। हालांकि सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है। हाथरस गैंगरेप हत्या मामले की शुरुआती जांच उत्तरप्रदेश पुलिस (UP Police) द्वारा की गई और बाद में एसआईटी द्वारा मामले की जांच को आगे बढ़ाया गया। एसआईटी द्वारा कुछ ही दिनों में मामले में हुई अब तक की जांच रिपोर्ट पेश की जाएगी।

क्या है पूरा मामला?

14 सितंबर को यूपी के हाथरस में 19 वर्षीय दलित युवती के साथ चार युवकों ने गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था। युवती की हालत काफी गंभीर थी। जिसके बाद पीड़ित युवती को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल (Safdarganj Hospital, Delhi) में भर्ती कराया गया था। 19 सितंबर को पीड़िता की इलाज के दौरान मौत हो जाती है। मामला ज्यादा सुर्खियों में तब आया जब 29-30 सितंबर की रात करीब 2:30 बजे पुलिस द्वारा पीड़िता के शव को जला दिया गया था।

हाथरस मामले के बाद उत्तरप्रदेश सरकार और पुलिस दोनों पर सवाल उठाए जाने लगे। पूरे देश में हाथरस की निर्भया के लिए न्याय की पुकार उठने लगी। उत्तरप्रदेश सरकार (UP Goverment) द्वारा सुप्रीम कोर्ट के सामने हलफनामा दायर कर अपना स्पष्टीकरण दिया गया। अब देखना दिलचस्प होगा कि सीबीआई हाथरस गैंगरेप और हत्या मामले की जांच को किस तरह से आगे बढ़ाती हैं, कौन-कौन से खुलासे करती है?

आगे पढ़ें-

Manoj Thayat

Manoj Thayat

पत्रकारिता मनोज का जुनून है। इसी जुनून को जीने के लिए और अपने तरीके से ख़बरों को आप तक पहुँचाने के लिए मनोज The Toss News के साथ जुड़े हैं। मनोज को पढ़ने, लिखने और संवाद करने का बेहद शौक है। देश-दुनिया की ख़बरों को आप तक समय-समय पर पहुँचाना मनोज का लक्ष्य है। आप सभी रोज़ाना मनोज द्वारा लिखी गईं ख़बरें पढ़ सकते हैं और Comment में अपना Feedback भी दे सकते हैं।