रूझानो में नजर भी नहीं आ रही है ‘द प्लूरल्स पार्टी’, दोनों सीटों से पीछे हैं पुष्पम प्रिया चौधरी

रूझानो में नजर भी नहीं आ रही है ‘द प्लूरल्स पार्टी’, दोनों सीटों से पीछे हैं पुष्पम प्रिया चौधरी
▶️मुख्यमंत्री पद की दावेदार ‘द प्लूरल्स पार्टी’ (Plurals Party) की प्रमुख पुष्पम प्रिया चौधरी पूरी तरह से पिछड़ गई हैं
▶️प्रचार-प्रसार के बाद भी पुष्पम प्रिया चौधरी की मेहनत का परिणाम कही भी दिखाई नहीं दे रहा है
▶️बांकीपुर से बॉलीवुड अभिनेता और कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा भी खड़े हैं

Bihar Election 2020: आज बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आ रहे हैं। कुछ ही घंटों में ये साफ हो जाएगा की बिहार किसके हाथों में जाएगा। रूझानों की बात करें तो मुख्यमंत्री पद की दावेदार ‘द प्लूरल्स पार्टी’ (Plurals Party) की प्रमुख पुष्पम प्रिया चौधरी (Pushpam Priya Choudhary) पूरी तरह से पिछड़ गई हैं।

सुर्खियों में रहना हुआ बेकार

अपनी पार्टी के साथ बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha Chunav) में उतरने वाली पुष्पम प्रिया चौधरी पिछले कुछ दिनों में काफी चर्चा का विषय बनी हुई थीं। लेकिन रूझानों में उनकी पार्टी कहीं दिखाई नहीं दे रही है। पुष्पम प्रिया चौधरी (Pushpam Priya Choudhary Plurals Party) ने खुद को मुख्यमंत्री के तौर पर घोषित कर लिया था। इसके लिए उन्होने काफी प्रचार-प्रसार भी किया था लेकिन इस मेहनत का परिणाम कही भी दिखाई नहीं दे रहा है।

Bihar Election 2020 Plurals Party Of Pushpam Priya Choudhary Is Not Even In Bihar Election Tends
Bihar

बांकीपुर सीट से नितिन नवीन हैं आगे

बता दें कि पटना का बांकीपुर विधानसभा सीट (Baankipur Vidhansabha Seat Patna) काफी चर्चा में रहती है। यहां से बॉलीवुड अभिनेता और कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा (Actor Shatrughan Sinha’s Son Luv Sinha) भी खड़े हैं। लेकिन बीजेपी से तीन बार के विधायक नितिन नबीन (Nitin Nabeen) एक बार फिर बांकीपुर से आगे चल रहे हैं। साथ ही उनके बाद दूसरे नंबर पर लव सिन्हा हैं और पुष्पम प्रिया चौधरी अपने दोनों सीटों पर पीछे हैं।

लंदन से बिहार आईं हैं पुष्पम प्रिया चौधरी

दरअसल पुष्पम प्रिया चौधरी जेडीयू के नेता और विधान परिषद के सदस्य रह चुके विनोद चौधरी की बेटी (JDU Leader Vinod Choudhary Daughter Pushpam Priya Choudhary) हैं। पुष्पम प्रिया चौधरी लंदन के मशहूर लंदन स्कूल ऑफ इकॉनमिक्स से पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स की बढ़ाई की है। जिसके बाद उन्होने बिहार की तस्वीर बदलने का दावा किया और बिहार आकर अलग पार्टी ‘प्लूरल्स पार्टी (Plurals Party)’ की स्थापना की है। लेकिन रूझानों में पुष्पम की पार्टी को वोट के लाले पड़ते दिखाई दे रहे हैं।

पुष्पम प्रिया चौधरी ने वोट पाने के लिए कड़ी मेहनत की थी, मार्च के बाद से ही बांकीपुर में गांव-गांव घूम कर लोगों के बीच उठती-बैठती रही हैं। लेकिन फिलहाल वो दोनों सीटों से पीछे हैं अब देखना ये होगा कि आगे क्या होता है।

Omkar Bhaskar

Omkar Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *