अरविंद केजरीवाल ने स्वछता कर्मी के निधन पर परिजनों को दिया 1 करोड़ का चेक, लोगों ने कहा मदद करके पब्लिसिटी करना ज़रूरी है क्या?

अरविंद केजरीवाल ने स्वछता कर्मी के निधन पर परिजनों को दिया 1 करोड़ का चेक, लोगों ने कहा मदद करके पब्लिसिटी करना ज़रूरी है क्या?
▶️कोरोना काल में कोरोना योद्धाओं के बलिदान का नहीं है कोई हिसाब, स्वछता कर्मी भी दिन-रात कर रहे हैं देश की सेवा
▶️स्वछता कर्मी राजू ने ड्यूटी के दौरान गवाई थी जान, CM अरविन्द केजरीवाल ने दिया 1 करोड़ का मुआवज़ा
▶️ट्विटर पर लोगों ने केजरीवाल के इस काम को बताया पब्लिसिटी करने का ज़रिया

कोरोना काल भले ही हम सबके लिए काफ़ी बुरा रहा हो लेकिन कुछ ऐसे भी शख्स हैं जिनके लिए ये महामारी हमारी अपेक्षा ज़्यादा कठिन और चुनौतियों से भरी रही है। मैं यहाँ बात कर रही हूं उन कोरोना योद्धाओं (Corona Worriors) की जो दिन-रात अपनी जान की परवाह किए बिना हमारी देखभाल के लिए बस लगे पड़े हैं।

Arvind Kejriwal Compensation to Sainitization Worker Family

अरविन्द केजरीवाल ने दिया 1 करोड़ का चेक

इन कोरोना योद्धाओं में सफाई कर्मी भी अहम भूमिका निभा रहे हैं। लेकिन ऐसे भी लोग हैं जो देशवासियों की सेवा करते-करते अपनी जान गवा रहे हैं। ऐसा ही एक स्वछता कर्मी देश की जनता की सेवा करने के दौरान अपनी ज़िन्दगी से हाथ धो बैठा। और अब देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal Delhi) ने सैनिटेशन वर्कर के परिजनों को 1 करोड़ का मुआवज़ा (Compensation to Corona Worriors) देकर मदद की है।

Arvind Kejriwal Compensation to Sainitization Worker Family

कोरोना योद्धाओं पर गर्व होने की कही बात

स्वछता कर्मी राजू के दूसरों की सफाई और जान का का ध्यान रखने के दौरान मौत हो गई। ड्यूटी के दौरान निधन की वजह से आज सीएम अरविन्द केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने राजू के परिवार वालों को 1 करोड़ रूपए का मुआवज़ा देकर मदद प्रदान की है। सीएम केजरीवाल ने कहा कि राजू की जान देश के लोगों की सेवा करने के दौरान गई है, हमें ऐसे कोरोना योद्धाओं (Corona Worriors) पर गर्व हैं।

Arvind Kejriwal Compensation to Sainitization Worker Family

क्या रहा लोगों का ट्विटर पर रिएक्शन?

सीएम अरविन्द केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) के इस कदम से जहाँ काफ़ी लोग ख़ुश नज़र आ रहे हैं। लेकिन वहीं कुछ लोगों इसका विरोध कर रहे हैं। आइये देखते हैं क्या रहा लोगों का रिएक्शन?

एक यूजर ने कहा ये सब चेक मीडिया के सामने दिखाकर पब्लिसिटी करना ज़रूरी है क्या?

दूसरे यूजर ने लिखा कि जितना पैसा दिया है उसमें से वापस कितना ले लिया?

तीसरा ट्विटर यूजर केजरीवाल के इस काम से काफ़ी ख़ुश नज़र आया, उसने लिखा है कोई सफाईकर्मीओ का इतना शुभचिंतक! है कोई गरीबो का इतना बड़ा रखवाला!! है कोई कमजोरो वंचितो का इतना बड़ा मसीहा केजरीवाल जी की तरह। लेकिन क्या फायदा अंध भक्त इन बातो को नही समझेंगे।

एक यूजर ने कहा कि जो भी किया है उसे कल पेपर में भी छपवा देना।

क्या है The Toss News की राय?

हमारा इस बारे में यही कहना है कि इंसान की जान की कोई कीमत नहीं होती है लेकिन मरने वाले के परिवार को अगर पैसे दे दिए जाए तो ज़िन्दगी जीना थोड़ा आसान हो जाता है। हालांकि ये सिर्फ एक के लिए नहीं बल्कि सरकार (Delhi Goverment) को उन सबके लिए ऐसा कुछ करना चाहिए जिसकी जान देश के हित में किए गए काम के दौरान गई है।

ये भी पढ़े :

Mahima Nigam

Mahima Nigam

महिमा एक चंचल स्वभाव कि लड़की है और रियल लाइफ में खेलकूद करने के साथ इन्हें शब्दों के साथ खेलना भी काफी पसंद है। बता दें कि इस वेबसाइट को शुरू करने का सपना भी महिमा का है और उसे मंज़िल तक पहुंचाने का भी। उम्मीद करते हैं कि आप साथ देंगे