छठ महापर्व पर चल रहे घमासान को लेकर सीएम केजरीवाल ने तोड़ी चुप्पी, कहा हम भी चाहते हैं धूमधाम से मने त्यौहार

छठ महापर्व पर चल रहे घमासान को लेकर सीएम केजरीवाल ने तोड़ी चुप्पी, कहा हम भी चाहते हैं धूमधाम से मने त्यौहार
▶️राजधानी दिल्ली की स्थिति बेहद खराब हो गई है जिसे देखते हुए अब मास्क ना पहनने पर 2000 का जुर्माना लगा दिया गया है
▶️छठपूजा पर हो रहे घमासान को लेकर सीएम केजरीवाल ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि ये समय राजनीति करने का नहीं है
▶️हम दिल से चाहते हैं कि लोग धूमधाम से छठ का पर्व मनाएं, लेकिन इस समय ये कार्यक्रम सार्वजनिक जगहों पर करना ठीक नहीं है

Delhi Latest News: राजधानी दिल्ली में एक बार फिर कोरोना बेकाबू हो गया है। जिसके बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal Delhi) ने कोरोना गाइडलाइंस में कई तरह के बदलाव किए हैं। अभी हाल ही में दिल्ली में कोरोना (Corona In Delhi) के आंकड़ों में बेतहाशा वृद्धि होता देख शादी में एक बार फिर 50 लोगों के शामिल होने का ऐलान किया गया है।

अब मास्क ना पहनने पर 2000 का जुर्माना

बता दें कि राजधानी दिल्ली (Delhi Pollution) की स्थिति बेहद खराब हो गई है जिसे देखते हुए अब मास्क ना पहनने पर 2000 का जुर्माना लगा दिया गया है पहले ये जुर्माना 500 रूपय था। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल (Deputy Governer Anil Baijal Delhi) से इस बारे में बात करते हुए मास्क ना पहनने वालों पर जुर्माना 500 हटाकर 2000 कर दिया है।

इस समय राजनीति ना करें।

छठपूजा (Chhath Puja 2020) पर हो रहे घमासान को लेकर सीएम केजरीवाल ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि ये समय राजनीति करने का नहीं है। मैं विपक्ष से आग्रह करूंगा कि कोरोना के वक्त राजनीति न करें औऱ अपने घर की महिलाओं से अपील करें की वो छठ घर पर ही मनाएं।

सीएम ने आगे कहा कि यह समय सेवा करने का है, हम जितनी सेवा करेंगे लोग उतना ही हमें याद करेंगे। सीएम ने ये भी कहा कि हम भी चाहते हैं कि भाई-बहन छठ पूजा (Chhath Puja 2020 in Delhi) बेहद धूमधाम से करें लेकिन एक संक्रमित व्यक्ति सभी लोगों को संक्रमित कर सकता है। इतना ही नहीं यदि कोई कोरोना संक्रमित व्यक्ति घाट पर चला जाता है औऱ पानी में उतर जाता है तो स्थिति और खराब हो सकती है सभी लोग संक्रमित हो जाएंगे।

मजबूरी में लिया है फैसला

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, हम दिल से चाहते हैं कि लोग धूमधाम से छठ का पर्व (Chhath Mahaparva) मनाएं, लेकिन इस समय ये कार्यक्रम सार्वजनिक जगहों पर करना ठीक नहीं है। हमारे अलावा कई राज्य सरकारों ने भी इस पर प्रतिबंध लगाया है क्योंकि हम चाहते हैं कि कोरोना और ना फैले यही कारण है कि हमें ये फैसला लेना पड़ा।

Omkar Bhaskar

Omkar Bhaskar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *