5 आसान पॉइंट्स में जाने क्या था 2018 का मामला जिसके कारण अर्णब गोस्वामी हुए गिरफ्तार

5 आसान पॉइंट्स में जाने क्या था 2018 का मामला जिसके कारण अर्णब गोस्वामी हुए गिरफ्तार
▶️साल 2018 के मुद्दे को लेकर आज रिपब्लिक टीवी के इडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी को पुलिस ने गिरफ्तार किया
▶️2018 के मई महीने में एक इंटीरियर डिजायनर से अर्णब ने काम करवाया था और 83 लाख रूपये बकाया रखे थे, जिसकी वजह से डिजाइनर ने आत्महत्या किया
▶️आज सुबह पुलिस अलीबाग पहुंची और अर्नब गोस्वामी को उनके घर से गिरफ्तार किया गया

Arnab Goswami Arrest: बुधवार को रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्णब गोस्वामी को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अर्णब की गिरफ्तारी को लेकर सोशल मीडिया से लेकर न्यूज चैनल तक में खूब बवाल मचा हुआ है। जानकारी के अनुसार अर्णब की गिरफ्तारी (Arnab Arrest For 2018 Matter) 2018 के मामले को लेकर हुई है। तो आइए जानते हैं ऐसा क्या हुआ था 2018 में जिसे लेकर 2020 में अर्णब को गिरफ्तार किया गया।

5 बिंदुओं में जाने क्या हुआ था साल 2018 में

साल 2018 के मुद्दे को लेकर आज अर्णब गोस्वामी (Arnab Goswami Editor-In-Cheif Republic Tv) को पुलिस ने गिरफ्तारा किया है, तो आज हम आपको पांच आसान बिंदुओं में बताएंगे की किस आधार पर अर्णब गोस्वामी को गिरफ्तार किया गया है।

1.क्या हुआ था साल 2018 में?

साल 2018 के मई महीने में एक इंटीरियर डिजायनर जिनका नाम अन्वय नाइक (Interior Designer Anvay Naik) था औऱ उनकी मां कुमुद नाईक ने अलीबाग में स्थित अपने घर मे आत्महत्या कर ली थी, इस खुदखुशी से पहले दोनों ने एक सुसाइड (Anvay Naik Suicide Note) नोट छोड़ा था जिसमें इस आत्महत्या के लिए अर्णब गोस्वामी सहीत 3 अन्य लोगों को जिम्मेदार बताया था।

2.अर्णब पर लगे थे गंभीर आरोप

अब आपको आरोप बताते हैं, दरअसल उस शख्स ने आरोप लगाया था कि, अर्नब ने अपने दफ़्तर में डिजाइनर से काम करवाया था और उसके 83 लाख (83 Lakh Rupees Fraud Case On Arnab Goswami) रूपये हजम कर गए थे। इसके बाद मामला पुलिस के पास पहुंचा और कुछ दिनों तक जांच हुई औऱ इस केस को बंद कर दिया गया।

3.दोबारा उठा केस

अब एक बार फिर पीड़ित परिवार की तरफ से ये मुद्दा उठाया गया है, और पीड़ित की बेटी ने पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है। आपको बता दें कि घटना के बाद मई महीने में ये केस CID के हाथों में थी जिसके बाद आज सुबह पुलिस अलीबाग (Alibhag) पहुंची और अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को उनके घर से गिरफ्तार किया गया।

4.दो अन्य लोग भी हुए गिरफ्तार

जानकारी ये भी है कि अर्णब के अलावा पुलिस ने 2 अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया है जिनका नाम सुसाइड नोट में लिखा गया है। इसमें आरोपी नितेश सारडा (Nitesh Sharda) जिनके ऊपर 55 लाख रुपये बाकी हैं, और दूसरा आरोपी फिरोज शेख (Firoz Sheikh), जिस पर 4 करोड़ रुपये बाकी होने का आरोप लगाया गया है।

5.बीजेपी का ठाकरे सरकार पर निशाना

अर्णब की गरफ्तारी के बाद लगातार सोशल मीडिया #IndiaWithArnab पर बवाल मचा हुआ है, बीजेपी का कहना है कि ठाकरे सरकार ने बदले की भावना में अर्णब को निशाना बनाया है।

आगे पढ़ें-

Juli Kumari

Juli Kumari

जूली एक सिंपल सी लड़की है जिसे खुद सजना और ख़बरों को अपने शब्दों से सजाना बेहद पसंद है। जूली को राजनीति, लाइफस्टाइल और कविताएं लिखने का भी काफी शौक है। आप The Toss News में जूली के लिखे हुए लेखों को पढ़ सकते हैं और पसंद आए तो शेयर भी कर सकते हैं। और एक राज़ की बात बताऊं? कमेंट कर के या हमारे Social Media Platforms पर मेकअप और हेयरस्टाइल टिप्स भी ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *