सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब सामने आए महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख, मीडिया के सामने दी सफाई

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अब सामने आए महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख, मीडिया के सामने दी सफाई

▶️ सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद विवादों में घिरी महाराष्ट्र सरकार, आई बचाव मुद्रा में नज़र
▶️ आगे आकर गृह मंत्री अनिल देशमुख ने दी सफाई, बताया पुलिस कर रही थी अच्छे से जांच
▶️ जांच के लिए सीबीआई ने किया है एसआईटी का गठन, मुंबई पुलिस को देने होंगे अब तक के सारे सबूत
Anil Deshmukh records statement after sushant's CBI verdict

बुधवार सुबह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मामला पूरी तरह सीबीआई के हवाले कर दिया गया है। जिसके बाद लगातार महाराष्ट्र पुलिस और सरकार को विवादों का सामना करना पड़ रहा है। और वो लगातार अपना बचाव करते हुए भी नजर आ रही है। इस पर गृहमंत्री अनिल देशमुख ने आगे आते हुए अपनी सफाई पेश की है। फैसला होने के करीब 6 घंटे बाद महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कोर्ट का मानना है कि मुंबई पुलिस ने अब तक अपना काम भली प्रकार से किया है।

अनिल देशमुख ने मीडिया के सामने दी सफाई

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख कोर्ट के जजमेंट के लगभग 6 घंटे बाद मीडिया के सामने आकर अपनी सफाई दी जिसमें उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने लिखित रूप में यह कहा है कि मुंबई पुलिस ने अपनी जांच पूरी प्रोफेशनल अंदाज में की है। जिसमें हर सबूत की गहराई से तफ्तीश की गई है। फैसले के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में जैसे भूचाल से आ गया है, विवादों में आई महाराष्ट्र सरकार को कड़े तेवरों का सामना करना पड़ रहा है।

आपको बता दें कि सीबीआई द्वारा सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच के लिए पहले से ही स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम SIT का गठन किया गया है। जिसका एक अधिकारी एसपी कल तक मुंबई जांच हेतु पहुंच भी जाएगी। इस मामले में सुशांत के परिवार की भी राय सामने आया है उन्होंने फैसले का स्वागत करते हुए इससे न्याय की तरफ पहला कदम बताया है और सुशांत को सपोर्ट करने वाले उनके लाखों फैन्स को शुक्रिया कहा है।

शिवसेना सांसद संजय राउत की आई प्रतिक्रिया

सुप्रीम कोर्ट से फैसला आने के बाद शिवसेना के सांसद संजय रावत ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। संजय राउत का कहना है कि मुंबई पुलिस इस मामले की जांच में पूरी तरह काबिल थी, इसमें सीबीआई के दखल की जरूरत नहीं थी लेकिन राजनीतिक माहौल को देखते हुए बिहार सरकार ने अपनी रोटी सेकी है।

बिहार पुलिस पर निशाना साधते हुए रावत ने कहा कि बिहार पुलिस के डीजीपी इतना ढिंढोरा पीट रहे हैं कि उनके हाथ में बीजेपी के झंडे की कसर बाकी रह गई है। फिलहाल यहां बाद विवादों का दौर जारी रहेगा।

लेकिन इन सब बातों से बेखबर इसी बीच सुशांत के फैन्स इस फैसले के बाद काफी खुश नजर आ रहे हैं क्योंकि वे लगातार इस मामले में सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे और अब यह केस पूरी तरह से सीबीआई को ट्रांसफर होने के बाद उन्हें इंसाफ की उम्मीद बंध गई है।

आगे पढ़ें

Diksha Gupta

Diksha Gupta

दीक्षा उन लेखकों में से हैं जिनको शब्दों से बेहद प्यार हैं। और इन शब्दों को खूबसूरत तरीके से पन्ने पर उतारना दीक्षा को काफ़ी पसंद है। आप सब तक ख़बरें पहुंचाने के अलावा दीक्षा को कविताएं लिखना भी पसंद है। शौक की बात करें तो दीक्षा डांस में भी रूचि रखती हैं। और एक ऐसी लड़की हैं जिन्हें नई चीज़ें सीखने में मज़ा आता है। दीक्षा का मानना है की वह लक्ष्य कि प्राप्ति के लिए ही ईश्वर पर और खुद पर विश्वास करना पसंद करती हैं.