Amarnath Yatra 2020: अमरनाथ यात्रियों पर आतंकवादियों ने हमला करने का बनाया प्लान, रक्षा मंत्री राजनाथ पहुंचे अमरनाथ

Amarnath Yatra 2020: अमरनाथ यात्रियों पर आतंकवादियों ने हमला करने का बनाया प्लान, रक्षा मंत्री राजनाथ पहुंचे अमरनाथ
▶️Amarnath Yatra 2020: रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) अपने दो दिवसीय दौरे पर हैं, कश्मीर एलओसी (LOC Kashmir) के बाद बाबा अमरनाथ (Baba Amarnath) के दर्शन करने पहुंचे राजनाथ।
▶️आर्मी ऑफिसर (Army Officer) के मुताबिक हो सकता है अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला ।
▶️लॉकडाउन की वजह से बंद पड़ा दरबार जल्द खुलेगा, 21 जुलाई से शुरू होने वाली है अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra 2020 From 21st July)

21 जुलाई से अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra 2020) शुरू होने वाली है लेकिन इससे पहले एक ऐसी ख़बर सामने आ गई जिसने बाबा बर्फानी (Baba Barfani) के दर्शन करने की योजना बना रहे श्रद्दालुओं को एक बार फिर से ये सोचने पर मजबूर कर दिया कि वह जाएं या नहीं। दरअसल, आर्मी ऑफिसर (Army Officer) ने जानकारी देते हुए बताया है कि अमरनाथ यात्रा के दौरान आतंवादियों का हमला (Terrorist Attack During Amarnath Yatra) करने का प्लान है। लेकिन इस जानकारी के मिलने के बाद ही केंद्र रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Central Defence Minister Rajnath Singh, Amarnath Visit) ने अमरनाथ दर्शन करने का फैसला ले लिया और वहां पहुंच भी गए।

RajNath Singh पहुंचे Amarnath

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Defence Minister Rajnath Singh) अपने दो दिवसीय दौरे पर हैं। इसी के साथ राजनाथ सिंह आज बाबा अमरनाथ (Baba Amarnath Darshan) के दर्शन करने के लिए भी पहुंच गए। यह यात्रा इसलिए और भी अहम हो गई क्योंकि एक दिन पहले ही आतंकवादी हमले की जानकारी मिली थी। ऐसे में संभावना है कि राजनाथ सिंह अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा के लिए तैनात सैनिकों से आतंकवादियों (Terrorist Attack in Amarnath Yatra) से निपटने की योजना के बारे में चर्चा करें।

Amarnath Yatra 2020: कब से शुरू हो रहीं अमरनाथ यात्रा ?

21 जुलाई से प्रारम्भ होने वाली है अमरनाथ यात्रा (Amarnath Yatra From 21st July) जिसमें हजारों श्रद्धालु बाबा अमरनाथ (Baba Amarnath) के दर्शन करेगे ऐसे मे आतंकी हमले की खबर से सुरक्षा एजेंसियों (Security Agencies) मे हलचल तेज हो गयी है। सेना के सुरक्षा बलों की माने तो आतंकी किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने वाले है और उनके टार्गेट पर अमरनाथ यात्री है।

Amarnath yatra 2020 kab se shuru ho rahi hai

आतंकियों से निपटने के लिए बन चुका है प्लान

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सेना के अधिकारी (Army Officer in Press Conference) ने बताया के कैसे यात्रियों की सुरक्षा को लेकर सारी तयारी कर ली गयी है और आतंकियों की हर साजिश को नाकाम करने के लिए भारतीय सेना (Indian Army) ने कमर कस ली है यदि आतंकी हमला करने की गलती करते भी है तो उन्हें मुह तोड़ ज़वाब दिया जाएगा।

पहले भी हो चुके है अमरनाथ यात्रियों पर कयी हमले।

1993 आतंकियों ने पहली बार बनाया था अमरनाथ यात्रियों को अपना टार्गेट और इसके बाद आतंकियों का सबसे बड़ा हमला वर्ष 2000 देखने को मिला जिसमें 32 श्रद्धालुओं की जान चली गयी थी।

आतंकी हमेशा से अमरनाथ यात्रियों (Amarnath passangers) को अपना निशाना बनाते रहे है। वर्ष 2001 की घटना है जिसमें अमरनाथ यात्रियों के कैम्प पर हथगोले फेंके गए जिसमें 12 श्रद्धालुओं की जान चली गयी थी। इसके अगले वर्ष ही 2002 में श्रद्धालुओं के निजी वाहन पर आतंकियों ने हमला बोल दिया था और हमले मे दो श्रद्धालुओं की मृत्यु हो गयी थी।

आखिरी बार वर्ष 2017 मे आतंकियों (Terrorists) ने ने अमरनाथ यात्रियों को अपना शिकार बनाया था जिसमें 7 श्रद्धालुओं की जान चली गयी थी।

सुरक्षित दिशा में यात्रा

अब देखना यह होगा कि सेना के पुख्ता इंतजामों के बीच यात्रा की क्या दिशा होगी । बाबा अमरनाथ श्रद्धालुओं (Devotees Of Baba Amarnath) के जोश और उत्साह को बनाय रखने के लिए सेना ने हर मोर्चे पर कमान सम्भाल ली है।

क्या आप भी बना रहे हैं Amarnath Yatra का प्लान? हमें कमेंट सेक्शन में बताए।

आगे की खबर के लिए बने रहे The Toss News के साथ

ये भी पढ़े :

Somendra Raj Tiwari

Somendra Raj Tiwari